Month: September 2017

सेक्स के अलग अलग पोजीशन जिसमे स्त्री ऊपर हो

महिला पहले सीधी खड़ी होती है फिर कमर के पास से थोड़ा सा आगे की ओर झुके जिससे कूल्हे थोड़ा बाहर की ओर निकल आएंगे फिर अपने घुटनों को मोड़ते हुए थोड़ा नीचे झुकती है और इस दौरान वह अपने नितंबों को बाहर की ओर निकालती है इससे योनि का हिस्सा दिखने लगता है. तत्पश्चात पुरुष पीछे से प्रवेश की प्रक्रिया करता है. इस पोजीशन में रतिक्रीड़ा के दौरान पुरुष चाहे तो महिला के हाथ पकड़ कर या फिर महिला की कमर पकड़ कर धक्के की गति बढ़ा सकता है.

सही तरीके से कंडोम का इस्तेमाल बढ़ाये आपका सेक्स आनंद

कई बार पुरूष कंडोम पहनने के दौरान या कंडोम पहनने से पहले लुब्रिकेंट यानी किसी ऑयल या मॉश्चराइजर का प्रयोग नहीं करते जिससे सेक्स के दौरान पुरूषों को अधिक घर्षण होता है, ऐसे में पुरूष सेक्स को पूरी तरह से एन्जॉय नहीं कर पाते। दरअसल, कंडोम पहनने से पहले किसी अच्छी क्वालिटी के मॉश्चराइजर या ऑयल का इस्तेमाल करने से कंडोम पहनने के बाद भी सेक्स का आनंद बरकरार रहता है

बीवी की धमाकेदार चुदाई की सच्ची कहानी

उसकी चूत पता नही कितनी बार झड़ गयी थी अब मझे उस पर थोड़ा तरस आया अर में थोड़ा निचे आया और उसके पेट को चुसता रहा वो बोली प्लज़ यार अब चोद दो इतना सुनते ही में कंट्रोल बाहर हो गया।

उत्तेजित चाची को 69 की पोजीशन में लिया

उत्तेजित चाची को 69 की पोजीशन में लिया 69 में चाची को घुमा कर मैंने अपना लंड चाची के मुह में डाल दिया और चाची की चूत में अपनी जीभ डाल दिया और अब तो चाची के मुह से सिस्कारियो का दौर सुरु हो गया दोस्तों पूरी कहानी पढ़ कर मज़ा ले और शेयर करें |

चूत में वैसलीन लगाकर चुदाई

मैंने अपनी ऊँगली उसकी चूत में दिए हुए ओ के आकार में घुमाने लगा | अन्दर उसका हायमन धीरे धीरे खुलने लगा, फिर २-३ मिनट बाद में अंगूठे पर वैसलीन लगा कर चूत में डाला और उसके चेहरे को देखा तो फिर उसका मुँह किस करते करते रुक गया

आज अपनी मौसी की चूत भी चेक कर ले

रात होते सबके सोने के बाद मम्मी मेरे कमरे में आई और मेरे होंठों पर किस करते हुए बोली चल मेरे चोदू राजा ! आज अपनी मौसी की चूत भी चेक कर ले तूने ऐसी माँ कभी नहीं देखी होगी जो खुद के साथ अपनी बहन को भी चुदवाए

भाभी की होली वाली कविता

जोगी जी हां जॊगी जी. | मनीश की बहना निशा पक्की हईं छिनाल, सगे भैया से चूंची दबवावें और कटवावें गाल, सगे भैया का लंड लेके निशा की चूत हुई निहाल, जोगीरा सा रा सा रा. पूरा पढ़े और अपने दोस्तों को भी शेयर करें |

मौसी की दबी सी चीख निकल गई अ आ आ

मौसी की दबी सी चीख निकल गई अ आ आ वो धनुष बन गई। दोनों टांगें मेरे सीने के पीछे से ले जाकर वो मुझे लपेटे थी, उनकी आँखें वासना के ज्वर से बंद हो गईं थी, उनकी नाजुक कमर मेरी मजबूत बाजुओं में जकड़ी हुई थी। वो अपनी गाण्ड उठा-उठा कर लण्ड अन्दर लेने की कोशिश कर रही थी।

राण्ड तू कहती तो सही चूत का भोसड़ा बना देता

आज तो तेरी चूत में माल निकालूंगा, तुझे चोद डालूंगा हाय रे मेरे अमित, तो अब तक क्यो नहीं चोदा अरे राण्ड तू कहती तो सही चूत का भोसड़ा बना देता अरे तू एक बार मेरे पर चढ़ तो जाता, मैं तो अपनी चूत उछल कर तेरे लौड़े को अपने में समा लेती, आप ही चुद लेती |