Category: हिंदी सेक्स कहानियाँ

चूत फुद्दी लंड की सामान्य हिंदी सेक्स कहानियाँ
Chut Fuddi Lund ki samanya sex kahaniyan
General Sex Stories in hindi

पिता ने चखा कोमल बेटी के यौवन का स्वाद

कोमल के बाल ज़ोर से पकड़े और उसका सर दबा दिया अपने लॅंड पे. कोमल मासूम थी. ये उसका पहला अनुभव था किसी लॅंड के साथ खेलने का. लॅंड उसको गले तक जा चुका था. उसकी सासे दब रही थी. लेकिन थोड़ी ही देर में लॅंड चूसना आ गया.

मेरी बीवी की चुत की चुदाई

आदमी मेरी बीवी की गांड को शहला रहा था और कह रहा था तुम्हारी गांड बहुत-बहुत मस्त है गांड में डलवा दो मेरी बीवी कहने लगी गांड नहीं मरवानी वह कहने लगा प्लीज एक बार थोड़ा सा ही डालूंगा पर मेरी बीवी मना कर करती रही।

गाँव की देसी भाभी की सेक्स लाइफ- 2

मैंने उन्हें लिटाकर उनकी टांगें अपने कन्धों पर रखी और गीला लण्ड उनकी चूत में उतार दिया।
फिर उनकी ठुकाई शुरू हो गई, पूरा कमरा हम दोनों की आवाजों से गूजने लगा, चूत और लण्ड एक-दूसरे को हराने में लगे हुए थे।

चचेरे भाई की जवान बेटी की चुदाई

उसकी चूत में अपना माल गिरा कर मुझे जो सुकून मिला, वो मैं बयान नहीं कर सकता. थोड़ी देर उसके ऊपर पड़े रहने के बाद मैंने लंड उसकी चूत के बाहर निकाल लिया. लंड बाहर निकालते ही उसका और मेरा रस उसकी चूत से बाहर आने लगा.

गाँव की देसी भाभी की सेक्स लाइफ- 1

अब मेरा लौड़ा भी जवाब देने लग गया, मेरा भी होने वाला था- भाभी मेरा होने वाला है.. बोलो कहाँ गिराऊँ। यह कहानी आप मस्ताराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है। मैंने धक्के तेज कर दिए।

सर ने मौका देख मेरी चुत भर डाली

मेरी प्यास बुझने लगी मैं तड़प रही थी इस पल के लिए। सर बोले नीलांजना आज तक तुम कच्ची कली थी आज से तू छिनाल बन गई है। और पूरा लंड अंदर तक मेरी गान्ड में घुसेड़ कर लंड रस भर दिया और फिर मुझे सामने लिटा कर के मेरी टांगे फैलाकर मेरी चूंत का बहता हुआ रस चूसने लगे

विडिओज बनाकर नीग्रो जैसे लंड से चोदा

रूपेश मुझे दिन रात चुदाई करता रहा पर दिमाग़ तब खराब हुआ जब मुझे पीरियड नही आए मैं समझ गयी कुछ तो गड़बड़ है मैं रूपेश को बताई तो बोला बधाई हो मेरी रंडी मा बनने वाली है मैं बहुत रोई इस बार रूपेश को तरस आ गया

पदमा पड़ोसन गांड उछाल उछाल चुदवाया

मैंने भी फटाफट अपने कपड़े उतारे और अपना लंड उसके आगे कर दिया। वो उसे लालापॉप की तरह चूसने लगी। मैं भी बहुत ज्यादा उत्तेजित हो गया था मेरा लंड पत्थर जैसा सख्त हो गया था।

तीन गोरो से मेरी महराष्ट्रियन चुत चुदी

एक गोरे ने अपना मुँह मेरी चूत में डाल दिया और चूसने लगा और साथ में मेरी चूत में उंगली भी डालने लगा। दूसरा मेरे बगल में खड़ा हो गया और अपना खड़ा लंड मेरे मुँह में डाल कर मेरे मुँह को चोदने लगा। उसका लंड इतना कड़क था कि मेरे दांत उसके लंड को रगड़ रहे थे। वो बराबर मुझे अपना मुँह और खोलने के लिए कह रहा था।

पड़ोसी भाभी की चुदने की बेताबी

चुत मे से पहले से ही रस का दरिया बह रहा था, उन्हीं की पैन्टी से चूत साफ की और जीभ से चूत चाटने लगा, उन्हें मजा आने लगा। फिर हम 69 अवस्था में आ गए और वो भी मेरा लण्ड चूसने लगी।