Category: हिंदी सेक्स कहानियाँ

चूत फुद्दी लंड की सामान्य हिंदी सेक्स कहानियाँ
Chut Fuddi Lund ki samanya sex kahaniyan
General Sex Stories in hindi

कुछ दिन के लिए मौसी बनी मेरी

उनकी चूची को छोड़ कर उनका निचला वाला रसीला, नर्म और लाल होंठ मुँह में दबा लिया और चूसने लगा। मौसी भी मेरा साथ पूरे समर्पण के साथ दे रही थी, उनके हाथ लगातार मेरे सीने पर घूम रहे थे, मैं उत्तेजना की वजह से उनको जोर जोर से चूम रहा था। अचानक से उनके मुँह से आईई की आवाज निकली, मेरे मुँह में कुछ खून ऐसा स्वाद आने लगा था। मैंने उनके होंठ को देखा तो वहां मेरे जोर से चूमने की वजह से दांतों से कट गया था

लंड उसकी गांड को फाड़ फाड़ चोदा

मेरा लंड उसकी गॅंड मे घुस रहा था और उसे अछा लग रहा था मैने उसके नेक पे किस करना स्टार्ट कर दिया वो बोलने लगी अभी बहोत टाइम हैं आराम से कर लेना अभी मुझे काम कर लेने दे मैने उसके बूब्स दबा दिया और उसने मुझे अलग किया और मैं किचन से बाहर आके टीवी देखने लगा फिर आधे घंटे बाद रिया आई और बोली

छोटी-छोटी चूचीयाँ उन्नत वक्ष स्थल में बदल गई

गुप्ताईन की साड़ी को घुटनों से ऊपर तक उठाते हुए तेल लगाना शुरू कर दिया था। अब गुप्ताईन की गोरी चिकनी टांगो पर तेल लगते हुए आया की बातों का सिलसिला शुरू हो गया था। अब आया ने गुप्ताईन की तारीफो के पूल बांधना शुरू कर दिए थे, तो गुप्ताईन ने थोड़ा सा मुस्कुराते हुए पूछा कि और गाँव का हालचाल तो बता, तू तो पता नहीं कहाँ कहाँ मुँह मारती रहती है

घर मे पापा भाई सबसे चुदवाती

चुदाई के बाद से मैंने सोच लिया था कि अब में अपने किसी बॉयफ्रेंड से नहीं चुदूंगी और किसी चुदक्कड़ बॉयफ्रेंड से संबंध भी नहीं रखूँगी, क्योंकि जब घर में ही सुरक्षित सेक्स का मज़ा है तो बाहर रिस्क क्यों लेना मुझे उस शरारती लंड को देखकर हँसी आ गयी की रातभर इसी ने हंगामा मचाया था और अब भी सिपाही की तरह तनकर खड़ा है

मामी की सिस्टर की चुत लाल कर दी

एक हाथ मेरे लंड पे मेरा तो लंड खड़ा हो गया और मैं धीरे से उसकी और मूड गया और मैने भी उसे हग कर लिया उतने मे तो रुही ने मेरा लंड सहलाना शुरू कर दिया और मेरे लिप्स के नज़दीक अपना मूह लाने लगी तभी मैने उसके लिप्स पे किस करने लगा अबतो मेरी चुत रेड हो गयी है फिर भी मैं उसको घोड़ी बना के चोदने लगा दस पन्धरा मिनिट के बाद मैं झड़ गया और नीचे आ गया इतनेमे मामा के आने की आवाज आई

दोस्त की बहन की चुत चाटा

मुझे बड़ा अच्छा महसूस होने लगा मैं उसकी योनि को बड़े अच्छे से चाटे जा रहा था उसकी योनि से पानी भी बाहर की तरह निकल रहा था और मुझे बहुत अच्छा महसूस हो रहा था। मैंने शुभा से कहा कि अब मैं तुम्हारी चूत मे अपने लंड को डाल रहा हूं मैंने उसके दोनों पैर चौडे कर लिए और जैसे ही उसकी योनि पर मैंने अपने लंड को टच किया तो वह में मचलने लगी

सेक्स की उत्तेजना मे मुझे यूज किया

गांड ने चिकना पानी निकालना शुरू कर दिया और दोनों उंगलियां आसानी से अन्दर बाहर होने लगीं। तब मैंने अपने सुपारे पर क्रीम लगाई और थोड़ी सी और उसके छेद में लगा दी और तब मैंने उसकी छेद से टिका कर सुपारे को अन्दर ठेला। एक तो क्रीम और पानी की चिकनाहट और उसकी उत्तेजना… टोपी को बहुत ज्यादा जोर नहीं लगाना पड़ा और वो अन्दर उतर कर फंस गई

नया नया लंड घुसवा के चुत चुदवाई

अपनी जीभ से मेरी योनि के दाने को सहलाने चुभलाने लगा और उंगली को गुदा के छेद में चलाता रहा। जब मैं बुरी तरह गरम हो कर सिसकारने, ऐंठने लगी तो वो उठ कर मेरे सर के पास चला आया और अपना मुरझाया हुआ लिंग मेरे होंठों के आगे कर दिया। अब इन्कार की गुंजाईश कहाँ बची थी, मैंने उसे मुँह में ले लिया और लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी

ब्लू-फिल्मों की बदौलत मैं चुदासी बन गई

मैंने देखा कि उसका लाल-लाल चमकता हुआ लौड़ा कड़क हो कर बाहर निकला हुआ था। उसके लौड़े का नाप देख कर बेखुदी-सी की हालत में मैंने अपना हाथ बढ़ा कर उसका अज़ीम लौड़ा अपनी मुठ्ठी में ले लिया। मेरी इस हरकत से जैकी झटके मारते हुए मेरी मुठ्ठी में अपना लौड़ा चोदने लगा। लेकिन साथ ही उसने मेरी चूत चाटना बंद कर दिया जो मैं नहीं चाहती थी

सिड्यूस करके भाई के साथ सेक्स

मैं घर मे ब्रा नही पहनती थी तो मेरी चुचिया आज़ाद हो गई और भैया के चेहरे के सामने झूलने लगी. भैया उन्हे देख के पागल से हो गये और किसी बहसी के जैसे मेरी एक चुचि को प्रेस करने लगे और दूसरे को मूह मे लेके चूसने लगे. भैया इतनी ज़ोर से चुचियों को दबा रहे थे की मुझे दर्द हो रहा था लेकिन मैने उन्हे मना नही किया और मज़े लेते र