Category: हिंदी सेक्स कहानियाँ

चूत फुद्दी लंड की सामान्य हिंदी सेक्स कहानियाँ
Chut Fuddi Lund ki samanya sex kahaniyan
General Sex Stories in hindi

खेत मे ससुर ने बहू की चुत भरी

उसके मम्मो को पकड कर दबाने लगा जोर जोर से. फिर मैं रुक गया और जोर से पुश किया अपने लौड़े को बहु की चूत के अन्दर. उसके मम्मे एकदम जोर से मसल दिए और मेरा लावा उड़ेल दिया उसकी चूत के अंदर ही मैंने!

उसने चुत की छेद मे जीभ घुसवाई

मेरे चूतड़ उछलने लगे और विमला के चूतड़ भी मचले और वो भी मेरी चूत में चिल्लाने लगी- आइना ! चूसो अ आमा अर्रर्रर्रे रीईईए आआ ! और मुझे ऐसा लगा जैसे चूत से झरना बह निकला हो !

माँ की प्यास को बेटे ने समझा

मेरे लंड पर बैठ गई और ऊपर नीचे उछलने लगी, उनके बूब्स क्या हिल रहे थे? मेरा तो सपना पूरा हो गया मेरी अपनी मां मुझसे चुद रही थी वह भी मस्ती में, पूरी रात मैंने उसको सोने नहीं दिया. सुबह उठ के मोम ने मुझे प्यार से किस किया और थैंक्स कहा.

धोके से खुद की चुत चुदवाई

उसने अपना लंड मेरे मुँह में डाल दिया और मैंने उसे बहुत चूसा, उसका लंड बड़ा टेस्टी था. फिर उसने अपने लंड और मेरी चूत पर थोड़ा तेल लगाया और इस बार उसने मेरी गांड पर भी तेल लगाया था.

गाव की लड़कीया लौड़े के लिए पागल

मैंने उसकी चुदाई करके उसके जिस्म के बहुत मज़े लिए और उसने भी मुझसे मेरी चुदाई से खुश होकर मेरा हमेशा पूरा पूरा साथ दिया, लेकिन शादी के दो दिन बाद में अपने घर पर आ गया और उस समय मैंने उससे मिलकर कहा कि में दोबारा जरुर आऊंगा और हम दोबारा चुदाई के ऐसे ही मज़े लेंगे.

ससुर ने बहू की चुदाई की प्यास बुझाई

उसने मेरा लौड़ा पकड़ पर अपने दाने पर कई बार रगड़ा मारा और फिर मस्त हो उठती थी। वो मेरे लण्ड के पास मेरे टट्टों को भी सहला देती थी। टट्टों को वो धीरे धीरे सहलाती थी। अब मुझसे रहा नहीं जा रहा था। मै अब चूत में अपना लण्ड अन्दर दबाने लगा।

सेक्स के बिना हर प्यार अधूरा है

मैं उसकी बाहों में गई तो उसने मेरे स्तनों को दबाना शुरू किया और मेरे होठों को चूसना शुरू किया मेरे अंदर की गर्मी बढ़ने लगी थी, मैं अपने आप को काबू में ना रख सकी। उसने मेरे स्तनों को चूसना शुरू किया तो मेरे शरीर से गर्मी अधिक मात्रा में बढने लगी।

ये चुत बड़ी है मस्त मस्त

मैंने उसके स्तनों को अपने हाथों से दबाया और उसके स्तनों को अपने मुंह में लेकर चूसा लेकिन जब मैंने उसे घोड़ी बनाकर चोदना शुरू किया तो उसके मुंह से आवाज निकलने लगी। वह मुझे कहने लगी मुझे बड़ा मजा आ रहा है मैं उसे तेजी से धक्के मार रहा था

शारीरिक संबंध बनाने के लिए

जैसे ही उसका लंड मेरी चूत में प्रवेश हुआ तो मुझे दर्द महसूस होने लगा और बहुत तकलीफ होने लगी परंतु मैं राजीव का विरोध नहीं कर पाई। राजीव ने उस दिन मेरी चूत के मजे लिए जैसे ही राजीव का वीर्य मेरी योनि के अंदर गिर गया

चुदवाने के लिए उतावली चुत

मेरे सीने पर हाथ फेरने लगी और मुझे चूमने लगी | उसके बाद मुझे भी अच्छा लगने लगा और फिर मुझे एक ऐसा एहसास हुआ जो पहले कभी नहीं हुआ था | एक शादीशुदा औरत जब लंड पकडती है तब पता नहीं कैसा जादू हो जाता है | उसने मेरे कड़क लंड को पकड़ा और उसे हिलाने लगी |