Category: देवर भाभी

देवर भाभी के बीच शरारतों, यौन सम्बधों की चुदाई कहानियाँ

Incest Hindi sex stories of Devar Bhabhi, Dewar Bhabhi chudai kahaniyan

वाइल्ड चुदाई की शौक़ीन भाभी

मैंने उसके बूब्स को दबाते हुए अपने हाथ को भाभी की नाइटी में डाल के उसकी जांघ को सहलाई. और फिर मेरी उंगलियाँ उसकी चूत की तरफ बढ़ गई. उसने मुझे वासना से भरी हुई नजरों से देखा. और फिर भाभी ने जो किया वो बहुत ही अनएक्सपेक्टेड थे मेरे लिए! भाभी ने अपने सब कपडे खोले और वो पूरी नंगी हो के मेरे साथ 69 पोस में लेट गई

देवर से चुत चुदवाकर सुहागन बनी – Audio Sex Story

देवर से चुत चुदवाकर सुहागन बनी मेरे देवर का लंड एक दिन मैंने नहाते हुए देख लिया अब उसका लंड मेरे मन में घूमने लगा मेरे मन में इच्छा हुयी क्यों ना एक बार देवर का लौड़ा चखा जाए मैंने अपने देवर को बहकाने की

देवर बबुआ ने दोस्तों संग मिलकर ग्रुप सेक्स खेला

देवर बबुआ ने दोस्तों संग मिलकर ग्रुप सेक्स खेला ग्रुप सेक्स का नाम आते ही मन में एक अजीब तरह की हलचल होने लगती है की एक साथ कई लंड से चुदवाने को मिलेगा और चुत की प्यास बुझ जायेगी पूरी कहानी पढ़े और मज़ा ले |

भाभी के बूब्स चुसाई और चुत की चुदाई

भाभी के बूब्स चुसाई और चुत की चुदाई, वो एक दम दूध जैसी लग रही थी बिलकुल गोरी और फिर मेने उनका ब्लाउज उतरा और उनके चुके चूसने लगा वो सिसकारियां और उन्होंने जभी मेरा लंड पकड़ लिए और और म धीरे धीरे किस्स करता हुआ उनके पेट् क्र चुमने लगा फिर निचे उनकी रेड कलर की पंतय क ऊपर से चूत को सहलाने लगा

देवर ने मेरी चुत का रस निकाल दिया – Audio Sex Story

मैंने सावधानी से बाग में इधर उधर देखा, और पजामे में हाथ घुसा कर उसका नंगा लण्ड थाम लिया। बस मसला ही था कि कुछ आहट हुई, मैंने तुरन्त ही हाथ बाहर खींच लिया। Audio Sex Story

भाभी जान के लिए मेरा बेशुमार प्यार -2

भाभी जान के लिए मेरा बेशुमार प्यार -2, वो जमीन पर नज़ारे टिका कर कुछ सोचने लगी तब मैं उठ कर टोयीलेट चला गया क्यों की जोर की पिसाब लगी थी पिसाब करते करते दिमाग में शैतानी कीड़े कुलबुलाने लगे तो मैंने पिसाब कर के लंड मोहदय को अंडर वेअर में ना डाल कर बहार ही लटकने दिया और उसको लुंघी से सही तरह

भाभी जान के लिए मेरा बेशुमार प्यार -1

भाभी जान के लिए मेरा बेशुमार प्यार -1, लक्ष्मी भाभी थोड़ी देर तक किताब पढ़ती हुई सलवार के अन्दर से अपनी चुत रगड़ रही थी उनका चहरा वासना से भर कर सुर्ख होने लगा था फिर उन्होंने उस किताब को पलग के गद्दे जे निचे रख कर एक हाथ से अपने उर्वोरोज की घुंडी मसल रही थी और एक हाथ से चुत सहला रही थी कुछ देर में उनका शरिर अकड़ने लगा और वो पसीने से तर बतर हो कर लम्बी लम्बी सांसे लेने लगी

भाभी के साथ मै और मेरी वाइफ ने थ्रीसम सेक्स किया

भाभी के साथ मै और मेरी वाइफ ने थ्रीसम सेक्स किया, मेरी वाइफ भाभी के स्तनों का मसाज कर रही थ. मैं पलंग पर बैठकर दोनों को देखने लगा मोनिषा ने मेरी तरफ देखा. भाभी हम दोनों को देख रही थी मैंने मोनिषा के होंठों को चूम लिया मोनिषा ने भी मेरे होंठों को चूम लिया इस दौरान मोनिषा भाभी के स्तनों का मसाज जारी रखे हुए थी भाभी हम दोनों को इस तरह से चूमता देख बेकाबू होने लगी उसके जिस्म में बढती हलचलों को काबू में रखने के लिए मैं भी उसके स्तनों पर मसाज करने लगा

पूरा लण्ड भाभी की चुत में समां गया

एक और जोरदार स्ट्रोक मारा और पूरा लण्ड भाभी की चुत में समां गया. भाभी की हालत तो ऐसे थी जैसे बिन पानी की मछली. भाभी जोर जोर से चीख रही थी. पर उनकी सुनने वाला कोई नहीं था

वहिनीची पुच्ची मारण्याचा सुखद अनुभव

वहिनीची पुच्ची मारण्याचा सुखद अनुभव, मित्रांनो या गोष्टी ची हिरोईन माझी भाभी आहे मी तिच्या बरोबर हळू हळू फ्लर्ट करणे चालू करून टकले होते तिने पुच्ची एकदम स्वच्छ केलेली होती. मी वेळ न घालवता माझे ओठ पुच्चीवर ठेवले. पण आता तिच्या पुच्ची ची सुगंध मला वेड लावत होती. मी तिच्या मांड्याना वेगळे करून पहिले तर तिची ती छोटी गुलाबी पुच्ची माझ्या नजरे समोर होती