Category: सामूहिक चुदाई

दो से अधिक स्त्री पुरुषों लड़के लड़कियों के एक साथ मिल कर एक स्थान पर सामूहिक चुदाई या सेक्स का मजा लेने की कहानियाँ

Do se jyada ladke ladkiyon ke ek sath mil kar chut chudai ki kahaniyan

Sex Stories about Group Sex among many girls and boys or couples

सहेली के साथ मिल जिगोलो सर्विस का मजा ली

वह मेरी चूतड़ों को पकड़कर धक्के मार रहा था। यह सब मुझे ऐसा लग रहा था मानो जो मेरे पति नहीं कर पाए हो वह रोहित कर रहा है। वह बड़ी तेजी से झटके मारता और मेरे चतडो को हिला कर रख देता मैं भी अपने चूतड़ों को उसकी तरफ करती जा रही थी। ऐसा हम दोनों ने काफी देर तक किया मेरा अब झड़ने को हो गया था। मैं तो ऐसे ही घोड़ी बनी रही और रोहित धक्के मारे जा रहा था

रंडीखाने की रंडी लाकर ग्रुप में चोदे

जैनब ने कहा कि सलमान तूने कितनी लड़कियां चोदी है तो उसने करीबन 8 चोदी है तो जैनब ने पूछा और रंडियां | तो सलमान बोला 3 रंडियां वो कोठे पर जा के | तो सलमान ने पूछा की तेरा स्कोर क्या है तो जैनब बोला 7 लड़कियां और 5 रंडियां वो भी घर पर ला के | हम लोग चौंक गए कि घर पर कैसे ला के चोदा तूने | तो उसने कहा कि सारी सेटिंग करके रखता हूँ और जब रात को मम्मी पापा सो जाते है तो चुपचाप से उसको ऊपर वाले कमरे में ले जाता हूँ और खूब चोदता हूँ

बीवी ने दिलाया नयी चूत ग्रुप में

मैंने लंड मुहं से निकाला और प्रतिमा को ऊपर कर के उसके बूब्स को जोर जोर से सक करने लगा और गांड को पकड़ के दबा दिया. प्रतिमा जानबूझ के एकदम जोर जोर से मोअन कर रही थी, अह्ह्ह्ह आअह्ह्ह्ह डार्लिंग सक मी अह्ह्ह्ह कम ओन सक माय बुब्स! मेरे दुसरे निपल को भी मुहं में लो

उसके पति के सामने उसे चोदा

गुंजा ने केमरे के ऊपर ही अपने पति का लंड चूसा और अपने बड़े बूब्स मेरे लिए फ्लेश किया. साथ में उन्होंने मुझे भी केम ओन करवा के लंड दिखाने को कहा. मेरा लंड देख के गुंजा और भी चुदासी हो गई. अब मैं समझ चूका था की थ्रीसम की फेंटसी शायद गुंजा की ही थी

मर्द को हुआ प्यार में दर्द

तुम शरद का लण्ड घोड़ी बन कर चूसो, मैं पीछे से पहले गाण्ड फिर भोसड़े में चोदूँगा। स्वीटी- शरद, तुम पलंग पर खड़े हो जाओ, मैं घोड़ी बनती हूँ। चल रे निकेतन, डाल दे मेरी गाण्ड में ! मार ले ! तेरे में जितना दम है, निकाल दे। जैसे ही निकेतन का लौड़ा अपनी गाण्ड में लिया और मेरा लौड़ा मुँह में लिया तो थोड़ी ही देर में जवानी का जादू चालू हो गया, तीनों की सिसकियाँ शुरू हो गई

चूत और मुह में लंड ले हिचकती मेरी जवानी

मैं उसका लंड ही चूस रही थी की पीछे से विमल भी आ गया. उसने मेरे दोनों बूब्स को हाथ में ले के मसल दिया और फिर अपने लंड को निकाला और मेरी पीठ के उपर टच करवा रहा था. मेरे अन्दर की औरत एकदम जाग सी गई थी. मैंने पीछे देखा तो विमल ने मुझे आँख मार दी. मैं उसका लंड लेने के लिए घोड़ी सी बन गई. उधर मेरे मुहं में अभी भी राजन का लोडा तो था ही

एक साथ कई लंड लेती है मेरी चूत और गांड

मैं किसी भी लंड को हाथ में लेकर खेलने लगती. मेरे मुंह में भी अलग अलग साइज़ के लंड डाले जा रहे थे और मैं सभी लंड बड़े प्यार से चाट और चूस रही थी. तभी उनमे में से किसी ने मेरी चूत में अपनी जीभ डाल दी. खुशी के मारे मेरे मुंह से चीख निकल गई मैं जोर से चिल्लाई वैरी गुड ऐसे ही चूसो मादरचोदों चाटो मेरी चूत को… मैं पूरे नशे में थी और उछाल उछाल कर चूत चुसवा रही थी

जवानी से लेकर बहन को बीवी बनाने तक की कहानी -2

मेरा लन्ड सिकुडकर मा की चूत से बाहर आ गया. मैने प्यारसे मा और प्रियंका को खूब चूमा और उनके चुचियोपर प्यारसे हाथ फेरने लगा. मा की आन्ख बहुत देरसे खुली.
“मा कैसा लगा भैया का लन्ड?” प्रियंका ने पूछा. मा ने मुझे किस करते हुए कहा,” अब तो मुझे भी इससे प्यार हो गया है मेरे बेटे

कॉलेज की मैडम की ग्रुप में गांड चुदाई

मैडम नंगी लेटी थी और एक रंडी भी थी उसने बोला बता किसको चोदेगा | मैंने कहा मदम को उसने कहा ठीक है और मैडम की गांड फट गयी | मैं नंगा हुआ और अपना लंड खड़ा करने के लिए मैडम के मुँह में डाल दिया और कहा चूस साली रंडी चूस | उसने मेरा लंड चूसा और उसके बाद मेरा लंड खड़ा हो गया

नौकरों से खूब चूदी मेरी माँ

उदल मेरी माँ के ऊपर लेट गया और माँ को स्मूच करने लग गया. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था और अब मैंने बाहर मुठ मारनी शुरू कर दी. फिर वो माँ की नाभि और पेट पर जीभ फेरने लग गया और फिर वो धीरे-धीरे नीचे आया और बोला कि इसकी चूत कितनी मीठी और मस्त है. वो ज़ोर-ज़ोर से अपनी जीभ को माँ की चूत के अन्दर बाहर करने लग गया. फिर उसने अपना लंड माँ की चूत में डाल दिया और वो मेरी माँ को चोदने लग गया