Category: कोई मिल गया

ऎसे ही अनजानी लड़की लड़का या औरत मिल जाने पर हुई अचानक चुदाई
किसी अन्जान अचानक मिले व्यक्ति से यौन सम्बन्ध
Hindi Sex Stories About Sex with unacquainted/unknown

कजरी की कजरारे चुत- 1

मैंने बोला कजरी हम कल से तुमको देखे है तब से चोदने का प्लान बना रहे थे. जो फोटो तुम देखी हो ओ भी हम रखे थे. कजरी हसने लगी बोली हम तो आपको अपने चुत देंगे बाबू जी पर आपको भी हमें कोई गिफ्ट देना होगा. मैं मान गया और अपना लंड दे दिया चूसने को पर ओ माना कर दी बस लंड पर चूमा लेके मुस्कुरा के चली गई.

कामुक वासना वाली सानवी की चुत

मेरे गालों और होंठों को चूमते हुए स्तनों को सहलाते रहे. जब थोड़ी राहत सी हुई तो उन्होंने अपना लंड अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया. मैं अपने दांतों को भींचकर दर्द और जलन को पीने की कोशिश में लगी रही. लग रहा था जैसे कोई बहुत बड़ा और गर्म मूसल मेरी चूत में मसाला कूट रहा हो!

दो साल से चोदने की प्यास

मैंने ताहिरा की गाँड के छेद पर अपने लण्ड की टोपी रखकर ताहिरा  की कमर को पकड़ लिया और धीरे-धीरे अपने लण्ड को ताहिरा की गाँड में घुसाने लगा। ताहिरा ज़ोर-ज़ोर से चिल्लाने लगी। अभी तक लण्ड का सिर्फ़ सुपाड़ा ही घुस पाया था. फिर मैंने ताहिरा की गाँड के छेद को हाथों से फैलाया और फिर से ताहिरा की कमर पकड़ कर एक धक्का दिया।

नया साल मे नया माल

मेरा लंड खडा होगया मैंने तुरंत इसकी मुह से लंड निकाला और चुत मे पेल दिया. इसबार लंड असानी से चुत मे चला गया. उसकी चुत सेफच फच की मधुर आवाज से जोशीले होते गया. एक उंगली उसकी gaand के छेद मे डाल के gaand भी मारने लगा. मस्त मस्त चुदाई के माहोल बना रहा .

डीवोर्सी औरत के चुत के साथ बेरहमी चुदाई

मैने उनके बूब्स जो की ज़्यादा बड़े तो नही थे मगर बहुत नरम और सिल्की थे मैं दबाने लगा वो किस तोड़ते हुए आहें भरने लगी मैने एक हाथ नीचे उनकी पैंटी पर भी घूमने लगा वो पूरी तरह मस्त हो रही थी फिर मैने उनको नीचे करके उनकी ब्रा उतार दिया और उनके चोकलेटी निप्पल्स को मुँह मे भर लिया वो मेरे सिर को अपने बूब्स पर दबाने लगी

पराये मर्द के लिए हुई चुत रसीली

मुझे बस यही विचार आनन्दित कर रहा था… कि भविष्य में नए नए लण्ड का स्वाद चखो और जवानी को भली भांति भोग लो। ‘अरे धीरे ना… क्या फ़ाड़ ही दोगे मुनिया को…?’ वो झड़ने की कग़ार पर था, मैं एक बार फिर झड़ चुकी थी। अब मुझे चूत में लगने लगी थी। तभी मुझे आराम मिल गया… उसका वीर्य निकल गया

सर्दी की रात मे मैंने अपने से ज्यादा उम्र की एक शादीशुदा औरत को चोदकर उसकी चुदाई के मज़े लिए

मेरा नाम विजय है और उम्र 26 साल है। में महाराष्ट्र का रहने वाला हूँ आज में आप सभी को अपनी एक सच्ची घटना लेकर आया हूँ और में इसमे बताऊंगा कि कैसे मैंने अपने से ज्यादा उम्र की एक शादीशुदा औरत को चोदकर उसकी चुदाई के मज़े लिए। यह मेरा अपना सेक्स अनुभव है कोई झूटी कहानी नहीं है और में उम्मीद करता हूँ कि यह सभी पढ़ने वालो को जरुर पसंद आएगी।

चुत का भूत उतार दिया

मैंने उसके होठों को चूमना शुरू किया तो वह मुझे कहने लगी मुझे आप बहुत अच्छे लगते हैं। मुझे आपसे अपनी चूत मरवाने थी। जब उसने यह बात कही तो मैंने भी उसके कपड़े फाड़ कर फेंक दिए। जब मैंने उसके कपड़े फाड़ कर फेंक दिए तो मैं उसकी चूत देखकर अपने आपको नहीं रोक पाई। मैंने उसकी चूत के अंदर अपनी उंगली डाल दी वह मचलाने लगी

मैडम मेरा लंड पकड़ चुत मे घुसवा ली

मैंने अपने लंड को बाहर खीचना शुरू किया और लंड का टोपा बाहर लाकर मैंने सही मौका देखकर एक ज़ोर का धक्का मारते हुए अपना पूरा लंड मेडम की चूत में जड़ तक डाल दिया। फिर मेडम मेरे उस धक्के की वजह से एक बार फिर से तड़प गयी और वो कहने लगी कि बस कर अब तू इसको निकाल ले बाहर, लेकिन में नहीं माना और में हल्के-हल्के धक्के लगाता रहा

अंजान औरत संग सेक्स और रोमांस

उसने जब मेरे लंड पर हाथ लगाया तो मेरा लंड गर्म हो रखा था। वह कहने लगी मुझे  आपके लंड को चूसना है, मैंने उन्हें कहा आपको किसी ने मना थोड़ी किया है। जैसे ही प्रज्ञा ने मेरे लंड को अपने मुंह में लिया तो वह बड़े अच्छे से मेरे लंड को चूस रही थी। मेरे अंदर से और भी उत्तेजना पैदा होने लगी, मेरी गर्मी बाहर आने लगी