Category: कोई मिल गया

ऎसे ही अनजानी लड़की लड़का या औरत मिल जाने पर हुई अचानक चुदाई
किसी अन्जान अचानक मिले व्यक्ति से यौन सम्बन्ध
Hindi Sex Stories About Sex with unacquainted/unknown

मस्ताराम से मिली एक हसीना

दोस्तों मेरा नाम इमरान है और मैं कोटा में एक रेस्टोरेंट चलाता हूं । मेरी उम्र 28 साल है और एथलेटिक बॉडी है मेरी। मेरा लंड 7 इंच लंबा और अच्छा मोटा है। कोटा पढ़ने वाले कई बच्चे मेरे रेस्टोरेंट में खाना खाने के लिए आते हैं। मैं मस्ताराम डॉट नेट का नियमित पाठक हूं […]

रात अभी बाकी है और हुस्न अभी भी जवान है- 2

हैलो दोस्तो, ये कहानी का दूसरा पार्ट है अगर अभी तक आपने इस कहानी का पहला पार्ट नहीं पढ़ा तो नीचे दिये गए लिंक पे क्लिक कर पहले कहानी को पहले पार्ट को रीड कर आगे की कहानी के मजे ले। रात अभी बाकी है और हुस्न अभी भी जवान है- 1 भिखारी मानो मगन […]

विडिओज बनाकर नीग्रो जैसे लंड से चोदा

रूपेश मुझे दिन रात चुदाई करता रहा पर दिमाग़ तब खराब हुआ जब मुझे पीरियड नही आए मैं समझ गयी कुछ तो गड़बड़ है मैं रूपेश को बताई तो बोला बधाई हो मेरी रंडी मा बनने वाली है मैं बहुत रोई इस बार रूपेश को तरस आ गया

तीन गोरो से मेरी महराष्ट्रियन चुत चुदी

एक गोरे ने अपना मुँह मेरी चूत में डाल दिया और चूसने लगा और साथ में मेरी चूत में उंगली भी डालने लगा। दूसरा मेरे बगल में खड़ा हो गया और अपना खड़ा लंड मेरे मुँह में डाल कर मेरे मुँह को चोदने लगा। उसका लंड इतना कड़क था कि मेरे दांत उसके लंड को रगड़ रहे थे। वो बराबर मुझे अपना मुँह और खोलने के लिए कह रहा था।

सेक्स के बिना हर प्यार अधूरा है

मैं उसकी बाहों में गई तो उसने मेरे स्तनों को दबाना शुरू किया और मेरे होठों को चूसना शुरू किया मेरे अंदर की गर्मी बढ़ने लगी थी, मैं अपने आप को काबू में ना रख सकी। उसने मेरे स्तनों को चूसना शुरू किया तो मेरे शरीर से गर्मी अधिक मात्रा में बढने लगी।

कजरी की कजरारे चुत- 1

मैंने बोला कजरी हम कल से तुमको देखे है तब से चोदने का प्लान बना रहे थे. जो फोटो तुम देखी हो ओ भी हम रखे थे. कजरी हसने लगी बोली हम तो आपको अपने चुत देंगे बाबू जी पर आपको भी हमें कोई गिफ्ट देना होगा. मैं मान गया और अपना लंड दे दिया चूसने को पर ओ माना कर दी बस लंड पर चूमा लेके मुस्कुरा के चली गई.

कामुक वासना वाली सानवी की चुत

मेरे गालों और होंठों को चूमते हुए स्तनों को सहलाते रहे. जब थोड़ी राहत सी हुई तो उन्होंने अपना लंड अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया. मैं अपने दांतों को भींचकर दर्द और जलन को पीने की कोशिश में लगी रही. लग रहा था जैसे कोई बहुत बड़ा और गर्म मूसल मेरी चूत में मसाला कूट रहा हो!

दो साल से चोदने की प्यास

मैंने ताहिरा की गाँड के छेद पर अपने लण्ड की टोपी रखकर ताहिरा  की कमर को पकड़ लिया और धीरे-धीरे अपने लण्ड को ताहिरा की गाँड में घुसाने लगा। ताहिरा ज़ोर-ज़ोर से चिल्लाने लगी। अभी तक लण्ड का सिर्फ़ सुपाड़ा ही घुस पाया था. फिर मैंने ताहिरा की गाँड के छेद को हाथों से फैलाया और फिर से ताहिरा की कमर पकड़ कर एक धक्का दिया।

नया साल मे नया माल

मेरा लंड खडा होगया मैंने तुरंत इसकी मुह से लंड निकाला और चुत मे पेल दिया. इसबार लंड असानी से चुत मे चला गया. उसकी चुत सेफच फच की मधुर आवाज से जोशीले होते गया. एक उंगली उसकी gaand के छेद मे डाल के gaand भी मारने लगा. मस्त मस्त चुदाई के माहोल बना रहा .

डीवोर्सी औरत के चुत के साथ बेरहमी चुदाई

मैने उनके बूब्स जो की ज़्यादा बड़े तो नही थे मगर बहुत नरम और सिल्की थे मैं दबाने लगा वो किस तोड़ते हुए आहें भरने लगी मैने एक हाथ नीचे उनकी पैंटी पर भी घूमने लगा वो पूरी तरह मस्त हो रही थी फिर मैने उनको नीचे करके उनकी ब्रा उतार दिया और उनके चोकलेटी निप्पल्स को मुँह मे भर लिया वो मेरे सिर को अपने बूब्स पर दबाने लगी