Category: माँ बेटा

माँ बेटा के बीच बने सेक्स सम्बन्धों पर आधारित चुदाई कहानियाँ
Maa-Beta Ke Beech Chudai Ki Kahaniyan
Incest Sex stories about Mother-son Sex Relations

चौकीदार के साथ मैंने भी मम्मी को चोद दिया

मम्मी की चुत मे अपनी ऊँगली आगे पीछे करने लगा थोड़ी देर मे ही मम्मी गरम हो गयी और उसके मुंह से सिसकारी निकलने लगी. इधर सूरजपाल ने मम्मी की चुत से मेरा हाथ हटा कर अपना मुंह मम्मी की चुत पर लगा दिया. अब वह मम्मी की चुत को मलाई की तरह चाटने लगा मम्मी की शरम ख़त्म हो चुकी थी.

मम्मी की चुदाई मुस्लिम लौड़े से

चूची को मुंह मे भरकर चूसना शुरूकर दिया और दूसरे हाथ से दूसरी चूची को मसलना शुरू कर दिया। माँ की बनावटी विरोध ख़त्म हो चूका था. अब वह सीसियाकारी ले रही थी और आगे बढ़कर अपनी दूसरी चूची साबिर के मुंह मे दे रही थी और साबिर तो मां पागल हो चूका था थोड़ी देर चूचियों का रस निचोड़ने के बाद साबिर ने उसकी सलवार खोल कर नीचे कर दी और उसकी पैंटी भी उतार दी.

जीवन साथी बनी मां- 2

मैं भी मां के मुंह में पेशाब करने लगा मटक मटक कर सारा पानी पी रही थी और कुछ पानी उसके मुंह और सूचियों पर टपक रहे थे. इसके बाद मां मेरे लंड** को चुत** में डाल दिया जोर जोर से चोदने लगी मैं नीचे रस्सी में बंधा हुआ नीचे से हल्का हल्का अपने लंड* को उछाल मार रहा था ऊपर से मां जोर जोर से अपने चूतड को हिला रही थी.

जीवन साथी बनीं मां

अब तुमसे कैसा शर्माना एक ही काम तो नहीं की हो सिर्फ मेरे चूत में अपना लौड़ा**नहीं डाले हो लेकिन मेरे नाम के कितने मुठ मारे हो कितनी बार अपनी चड्डी गीली कर डाले हो मैं सब जानती हूं और सब देखती थी मैं भी बहुत कंफ्यूज थी

दोस्त की माँ ने अपनी बुर और गांड मरवाई

उसकी मां की चूत मे लंड डाल रहे हैं। मैं यह सब बाहर से देख रहा था और वह उसे बड़ी तेजी से चोद रहे थे। उसकी मां बहुत ही तेज तेज आवाज में चिल्ला रही थी। मैं यह सब देखकर बहुत ही खुश हो रहा था जब उनका वीर्य गिरा तो उसकी मां ने अपने मुंह के अंदर वह सब निगल लिया। अब उसकी मां की गांड मेरे दिमाग में छप चुकी थी।

चुत और चूतड़ की धुआंधार पेलाई

निशा अपनी माँ की चूत चाट कर मेरे लौड़े के लिए तैयार कर। वो चुचियों के मज़े लेता रहा और मैंने मम्मी की चूत चूस कर गरम कर दी।
फिर वो चढ़ गया मेरी माँ के ऊपर और अपना हथियार पेल दिया। और धुआंधार चुदाई शुरू हो गयी।
“चोदो मुझे, मैं तुम्हारी हूँ, मेरे मज़े लो, मेरी चूत का भोसड़ा बना दो”
मम्मी मस्त चुदवा रही थी।

माँ चूदी भी और अपनी बेटी भी चुदवाई

मैं अपना लंड माँ के मुँह में और अन्दर घुसाते हुए दीदी की बुर को पूरा मुँह भर कर चाटते हुए झड़ गया। माँ दीदी को दिखाते हुए मेरे पूरे वीर्य को जीभ से चाट कर पीने लगीं। जब उसने मेरा लंड पूरा सुखा दिया.. तो सीधी होकर आराम से लेट गईं और दीदी से अपनी बुर चटवाने लगीं और फिर झड़ कर शांत हो गईं।
इधर मैंने भी दीदी की बुर चाट कर उसे झाड़ दिया था

चुदक्कड़ बुआ और मम्मी

बुआ ने मुझे लिटाया और मुझसे चिपक गयी फिर मेरे लड़ को बाहर निकाला अपनी चूत में दबा लिया मैने भी एक दक्के लगया मेरा पूरा लड़ उनकी चूत में चला गया। वो आआह….स्स्स….मुझसे बोली धिरे कर आवाज मत कर मैं धिरे धिरे उन्हें चोदने लगा चलती ट्रेन में हिल भी रहा था। फिर कुछ देर बाद मेरा माल निकल गया। बुआ की चूत में डाल दिया

मौसी के घर पर मम्मी की चुदाई की

मेने माँ को बिस्तर पर लेटाया उनकी पेंटी फाड़ दी उनकी चुत को चाटने लगा में बोली नई नहीं नहिई ईईईIइईईईईई मत्तत्त कर  ऊऊऊऊ इईईईईई आआआ मेरे माँ की चुत बहुत ही गीली हो चुकी थी मेरा लंड फिर से पावर में आ चुका था, मेने मां भी मेरे सर को पकड़ के मेरे साथ दे रही थी, उनकी भी बहुत मज़ा आ रहा था वी सिसकिया निकल रही थी। आआआ ईईईईई ऊऊऊऊ चाट चुत को तेरे बाप ने कभी भी इस चुत का अमृत नही पिया