Category: माँ बेटा

माँ बेटा के बीच बने सेक्स सम्बन्धों पर आधारित चुदाई कहानियाँ
Maa-Beta Ke Beech Chudai Ki Kahaniyan
Incest Sex stories about Mother-son Sex Relations

जीवन साथी बनी मां- 2

मैं भी मां के मुंह में पेशाब करने लगा मटक मटक कर सारा पानी पी रही थी और कुछ पानी उसके मुंह और सूचियों पर टपक रहे थे. इसके बाद मां मेरे लंड** को चुत** में डाल दिया जोर जोर से चोदने लगी मैं नीचे रस्सी में बंधा हुआ नीचे से हल्का हल्का अपने लंड* को उछाल मार रहा था ऊपर से मां जोर जोर से अपने चूतड को हिला रही थी.

जीवन साथी बनीं मां

अब तुमसे कैसा शर्माना एक ही काम तो नहीं की हो सिर्फ मेरे चूत में अपना लौड़ा**नहीं डाले हो लेकिन मेरे नाम के कितने मुठ मारे हो कितनी बार अपनी चड्डी गीली कर डाले हो मैं सब जानती हूं और सब देखती थी मैं भी बहुत कंफ्यूज थी

दोस्त की माँ ने अपनी बुर और गांड मरवाई

उसकी मां की चूत मे लंड डाल रहे हैं। मैं यह सब बाहर से देख रहा था और वह उसे बड़ी तेजी से चोद रहे थे। उसकी मां बहुत ही तेज तेज आवाज में चिल्ला रही थी। मैं यह सब देखकर बहुत ही खुश हो रहा था जब उनका वीर्य गिरा तो उसकी मां ने अपने मुंह के अंदर वह सब निगल लिया। अब उसकी मां की गांड मेरे दिमाग में छप चुकी थी।

चुत और चूतड़ की धुआंधार पेलाई

निशा अपनी माँ की चूत चाट कर मेरे लौड़े के लिए तैयार कर। वो चुचियों के मज़े लेता रहा और मैंने मम्मी की चूत चूस कर गरम कर दी।
फिर वो चढ़ गया मेरी माँ के ऊपर और अपना हथियार पेल दिया। और धुआंधार चुदाई शुरू हो गयी।
“चोदो मुझे, मैं तुम्हारी हूँ, मेरे मज़े लो, मेरी चूत का भोसड़ा बना दो”
मम्मी मस्त चुदवा रही थी।

माँ चूदी भी और अपनी बेटी भी चुदवाई

मैं अपना लंड माँ के मुँह में और अन्दर घुसाते हुए दीदी की बुर को पूरा मुँह भर कर चाटते हुए झड़ गया। माँ दीदी को दिखाते हुए मेरे पूरे वीर्य को जीभ से चाट कर पीने लगीं। जब उसने मेरा लंड पूरा सुखा दिया.. तो सीधी होकर आराम से लेट गईं और दीदी से अपनी बुर चटवाने लगीं और फिर झड़ कर शांत हो गईं।
इधर मैंने भी दीदी की बुर चाट कर उसे झाड़ दिया था

चुदक्कड़ बुआ और मम्मी

बुआ ने मुझे लिटाया और मुझसे चिपक गयी फिर मेरे लड़ को बाहर निकाला अपनी चूत में दबा लिया मैने भी एक दक्के लगया मेरा पूरा लड़ उनकी चूत में चला गया। वो आआह….स्स्स….मुझसे बोली धिरे कर आवाज मत कर मैं धिरे धिरे उन्हें चोदने लगा चलती ट्रेन में हिल भी रहा था। फिर कुछ देर बाद मेरा माल निकल गया। बुआ की चूत में डाल दिया

मौसी के घर पर मम्मी की चुदाई की

मेने माँ को बिस्तर पर लेटाया उनकी पेंटी फाड़ दी उनकी चुत को चाटने लगा में बोली नई नहीं नहिई ईईईIइईईईईई मत्तत्त कर  ऊऊऊऊ इईईईईई आआआ मेरे माँ की चुत बहुत ही गीली हो चुकी थी मेरा लंड फिर से पावर में आ चुका था, मेने मां भी मेरे सर को पकड़ के मेरे साथ दे रही थी, उनकी भी बहुत मज़ा आ रहा था वी सिसकिया निकल रही थी। आआआ ईईईईई ऊऊऊऊ चाट चुत को तेरे बाप ने कभी भी इस चुत का अमृत नही पिया

भाई ने अम्मी और हम बहनो को चोदा

मैं खड़ी हो कर अपनी चुचि फारुख के मुह्न में डालने लगी, और फारुख नीचे से अम्मी को चोदने लगा और उपर से मेरी चुचि को चूसने लगा. मेरी साँसें मुश्किल से चल रही थी, मेरा छ्होला भड़क रहा था. फारुख ने चुदाई की स्पीड और तेज़ कर दी और वो अम्मी की चुचि को पकड़ कर दबाने लगा.” अम्मी तुम तो बहुत टाइट हो, मुझे पता ही नहीं था कि अम्मी एक चुड़ाकड़ छिनल है, अम्मी तेरी चूत तो बहुत टाइट है

कुछ दिन के लिए मौसी बनी मेरी

उनकी चूची को छोड़ कर उनका निचला वाला रसीला, नर्म और लाल होंठ मुँह में दबा लिया और चूसने लगा। मौसी भी मेरा साथ पूरे समर्पण के साथ दे रही थी, उनके हाथ लगातार मेरे सीने पर घूम रहे थे, मैं उत्तेजना की वजह से उनको जोर जोर से चूम रहा था। अचानक से उनके मुँह से आईई की आवाज निकली, मेरे मुँह में कुछ खून ऐसा स्वाद आने लगा था। मैंने उनके होंठ को देखा तो वहां मेरे जोर से चूमने की वजह से दांतों से कट गया था