Category: रिश्तों में चुदाई

चाचा-भतीजी, चाची-भतीजा, मौसी, बुआ सास, ससुर जैसे रिश्तों में, परिवार में, रिश्तेदारी में चुदाई की कहानियाँ जिसे वर्जित माना जाता है |
Incest Sex Stories in Hindi of Bhai-Bahan, Rishton mein chudai, Jija Sali and Devar-Bhabhi
Aunty Sex Stories, Brother in Law Sex Stories, Sister Sex Stories, Relative Sex Stories

माँ चूदी भी और अपनी बेटी भी चुदवाई

मैं अपना लंड माँ के मुँह में और अन्दर घुसाते हुए दीदी की बुर को पूरा मुँह भर कर चाटते हुए झड़ गया। माँ दीदी को दिखाते हुए मेरे पूरे वीर्य को जीभ से चाट कर पीने लगीं। जब उसने मेरा लंड पूरा सुखा दिया.. तो सीधी होकर आराम से लेट गईं और दीदी से अपनी बुर चटवाने लगीं और फिर झड़ कर शांत हो गईं।
इधर मैंने भी दीदी की बुर चाट कर उसे झाड़ दिया था

भाभी ने मेरी चुदक्कड़ gf को पछाड़ दिया

उन्होंने मेरा लौड़ा अपने मुलायम हाथों में ले लिया और बड़े प्यार से उसको सहलाने लगी। उनके सहलाने का अंदाज इतना अच्छा था कि मुझको लगा कि मैं तुरन्त झड़ जाऊँगा। अब भाभी करवट लेकर पीठ के बल लेट गई। उनकी गुलाबी, बिना बालों की चूत मेरे सामने थी और उनका आंचल भी हट चुका था जिसने आज तक उनके मोटे मोटे स्तनों को मेरी नजरों से छुपाये रखा था। आज मेरी एक और इच्छा पूरी होने वाली थी सो मैंने बिना देर किये अपना मुँह उनकी चूत पर रख दिया और उसको चाटने लगा। मेरे दोनों हाथ उनके वक्ष को दबा रहे थे

मेरी भाभी को तो मेरे जैसा ही लौंडा चाहिए था

उसके चूतड़ भी मेरे लौड़े पर संवेदना भरे कसाव डाल रहे थे, तो ऐसा लगता था जैसे वह मेरे लंड का दूध निचोड़ लेना चाहते हैं। कमरे में हमारी मक्खन भरी गाँड़-चुदाई के कारण फच्च-फच्च की आवाजें गूँज रहीं थीं। मैंने उसकी गाँड़ करीब २० मिनटों तक मारनी जारी रखी, फिर मुझे महसूस हुआ कि मैं झड़ने के नज़दीक पहुँच चुका हूँ… मैंने उसे धीरे से कहा, “मैं झड़ने वाला हूँ।” उसने अपना हाथ बढ़ा कर मेरे अंडकोषों को दबाया। मैं चिल्लाया

पति के बिना पहली करवाचौथ पर ही बहन की चुदाई

पिंक कलर का निप्पल देख मैंने बिना देर किया ही झपट पड़ा. और अपनी बहन के चूचियों को मसलने लगा. और फिर उसके होठ को अपने होठ में लेके चूसने लगा. वो आह आह करने लगी. मेरा लैंड खड़ा हो चूका था, बहन बोली दिखा तो दे मुझे मेरा प्यार, मैंने उनके हाथ में अपना लैंड दे दिया. बोली कहा रखा था इतना दिन से. मुझे कब से इसकी जरूरत थी. और वो फिर अपने मुह में मेरा लैंड ले ली

मेरी बहन की फुली और कसी चूत

मेरी बहन की फुली और कसी चूत देख के मेरे मन मे पानी आ गया मैंने झट पट श्रुति की चूत पर मुह लगा कर चूसने लगा थोड़ी देर मे उसकी चूत से लासा जैसा पानी रिसने लगा अब मै जीभ अंदर बाहर करने लगा |

भाभी और ननद की चुदास भरी मस्तियाँ

भाभी और ननद की चुदास भरी मस्तियाँ नीता ने नाटक करते हुए कहा- ओह ! ज़रा देखूँ तो, और वो प्रिया की चूत को झुक कर देखने लगी। उसकी चुदी हुई चूत को देखकर नीता की चूत भी गीली होने लगी, नीता बोली- चिंता मत कर तेरी चूत फटी नहीं, बस थोड़ी खूल गई है, पर क्या तू पहले भी किसी से चुद चुकी है? तुझको खून क्यों नहीं निकला?

एक नारी की मनोदशा

मामा मेरे कपड़े उतारने लगे और मुझे पूरी नंगी कर दिया। मैं चुपचाप कसमसा रही थी, पर कुछ कर नहीं रही थी। इसके बाद मामा खुद भी नंगे हो गए और मेरे ऊपर चढ़ गए। उम्म्ह… अहह… हय… याह… उन्होंने मेरा कौमार्य भंग कर दिया। मैं भी दर्द से तड़फती हुई अपनी सील तुड़वाती रही। मुझे दर्द तो हुआ था पर मजा भी आया था

भाभी चुदी अपने प्यारे देवर से

देवर ने मेरी पेंटी को निकाल कर मुझे एकदम नंगी कर दिया और मुझसे बोलने लगा- भाभी, मैं आपको बहुत पहले से पसंद करता था लेकिन आपके साथ ये सब करने की हिम्मत नहीं होती थी. मैं आपको बहुत पहले ही चोदना चाहता था. मेरा भाई बहुत किस्मत वाला कि उसको आप जैसे खूबसूरत बीवी मिली है.
मेरा देवर मेरी चूत को सूंघने लगा लगा और मेरी चूत को सूंघने के बाद वो मेरी पेंटी को भी सूंघने लगा

चुदक्कड़ बुआ और मम्मी

बुआ ने मुझे लिटाया और मुझसे चिपक गयी फिर मेरे लड़ को बाहर निकाला अपनी चूत में दबा लिया मैने भी एक दक्के लगया मेरा पूरा लड़ उनकी चूत में चला गया। वो आआह….स्स्स….मुझसे बोली धिरे कर आवाज मत कर मैं धिरे धिरे उन्हें चोदने लगा चलती ट्रेन में हिल भी रहा था। फिर कुछ देर बाद मेरा माल निकल गया। बुआ की चूत में डाल दिया

मेरा प्यारा छोटा भईया

उसने जोर से मेरी चूचियाँ दबानी शुरू कर दी। अब उसने मेरा टॉप निकाल दिया और मुझे लोअर निकलने के लिए खड़ा होने के लिए बोला। जैसी ही मैं खड़ी हुई, उसने तेजी से मेरा लोअर नीचे खींच दिया। अब उसके सामने लाल ब्रा और पैंटी में थी। उसने मुझे बेड पर गिरा दिया, अपना सर मेरी चूत पर रख दिया और उसे ऊपर से चाटने लगा और अपने दोनों हाथों से मेरे कूल्हे दबाने लगा, मेरी गांड में उंगली दबाने लगा