Category: रोमांटिक कहानियां

रोमांटिक कहानियां, love story, हिंदी लव स्टोरी, प्यार की कहानी, रियल लव स्टोरी, hindi font love story, new hindi kahaniyan, mastara hindi kahani, रोमांस की कहानी, रोमांटिक लव स्टोरी

सेक्स की प्यास और प्यार

वह बहुत गर्म और यह रात मेरी ऐसी पहली रात है जो मैं कभी नहीं भूल पाऊंगा चूत पर जीभ लगाई और चातने में लगा बो पानी पानी होने लगी मैंने अपना लौड़ा उसकी चुत में झटके से अंदर कर दिया और प्यार प्यार से धक्का करने लगा।

गांड की छेद पर धुवाधार चुदाई

मे भी अब बेशर्म हो गयी थी और उसका लन्ड चूसने लगी। वो बोला साली कुतिया आज तो तेरे तीनो छेद को मे फ़ाड दूँगा, मे बोली हा मेरे राजा आज तो मुझे अपनी रन्डी बना दे फ़ाड डाल मेरे छेदो को आह्ह्।

मुठ मारना छोड़ चोदना शुरू कर दिया- 4

कुतिया रंडी, तूने मेरे पैसे चुराए थे। तेरे को चाल में बुलाने के लिए मैंने अपनी प्यारी सहेली शीतल को चाल से निकालने के लिए खेल खेला और तू ही मेरे पैसे चुरा ले गई। तुझे तो दो दो लण्डों से चुदवाऊँगी।

मुठ मारना छोड़ चोदना शुरू कर दिया- 1

मैंने उसकी चूचियों की निप्पल उमेठ उमेठ कर खड़ी कर दीं थी। मेरा लोड़ा दबाते हुए राखी बोली- बड़ा मज़ा आ रहा है। इसे बुर में लगाओ न। जल्दी से चोद दो और मत तड़पाओ।

मेरी बीवी की चुत की चुदाई

आदमी मेरी बीवी की गांड को शहला रहा था और कह रहा था तुम्हारी गांड बहुत-बहुत मस्त है गांड में डलवा दो मेरी बीवी कहने लगी गांड नहीं मरवानी वह कहने लगा प्लीज एक बार थोड़ा सा ही डालूंगा पर मेरी बीवी मना कर करती रही।

गाँव की देसी भाभी की सेक्स लाइफ- 2

मैंने उन्हें लिटाकर उनकी टांगें अपने कन्धों पर रखी और गीला लण्ड उनकी चूत में उतार दिया।
फिर उनकी ठुकाई शुरू हो गई, पूरा कमरा हम दोनों की आवाजों से गूजने लगा, चूत और लण्ड एक-दूसरे को हराने में लगे हुए थे।

गाँव की देसी भाभी की सेक्स लाइफ- 1

अब मेरा लौड़ा भी जवाब देने लग गया, मेरा भी होने वाला था- भाभी मेरा होने वाला है.. बोलो कहाँ गिराऊँ। यह कहानी आप मस्ताराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है। मैंने धक्के तेज कर दिए।

चुदाई के लिए चुत मिल गई

अचानक ज़ोर का झटका मारा तो आधा लंड चुत मे घुस गया. महिका ज़ोर ज़ोर से रोने लगी. आह आह आह मर गयी प्लीज़ जल्दी बाहर निकालो. बहोत दर्द हो रहा है.

मस्ती मे सराबोर होकर चुदाई करवाई

बिनोद मेरे उरोज सहलाता, फिर कभी हिप को सहलाता, १० मिनट तक ऐसे ही पड़े पड़े मैंने उसे बहुत गालियाँ दी फिर भी वो बेचारा चुपचाप मुझे प्यार से सहलाता रहा ! फिर धीरे धीरे उसने अपना लंड हिलाना शुरू किया, जब मुझे मज़ा आना शुरू हुआ.

चुत मे फिंगरींग कर चुदने के लिए राजी किया

उसने वो सारा पी लिया |फिर वो बेड पर मुझे ले गई | और टांग फैला कर बैठ गई और मेरे सर को अपनी चूत में दबाने लगी | उसकी चूत बिलकुल चिकनी थी | थोड़े से बाल थे जरुर उस पे | फिर मैं उसकी चूत को अच्छे से लिक कर रहा था और टंग फक भी |