Category: रोमांटिक कहानियां

रोमांटिक कहानियां, love story, हिंदी लव स्टोरी, प्यार की कहानी, रियल लव स्टोरी, hindi font love story, new hindi kahaniyan, mastara hindi kahani, रोमांस की कहानी, रोमांटिक लव स्टोरी

कुल्फी की तरह लंड चूस के चुदवाई

मैं भी गांड उठा उठा कर उसका साथ देने लगी अब वो पूरे ज़ोश के साथ मेरी गांड मार रहा था और मैं भी मज़े से आआऊऊईई आह्ह आह्ह्ह मार मेरे राजा ओर ज़ोर से मार । फाड़ डाल मेरी गांड । ऐसे ही चोद मुझे आह्हह्ह रन्डी बना के चोद मुझे।

गाव की लड़कीया लौड़े के लिए पागल

मैंने उसकी चुदाई करके उसके जिस्म के बहुत मज़े लिए और उसने भी मुझसे मेरी चुदाई से खुश होकर मेरा हमेशा पूरा पूरा साथ दिया, लेकिन शादी के दो दिन बाद में अपने घर पर आ गया और उस समय मैंने उससे मिलकर कहा कि में दोबारा जरुर आऊंगा और हम दोबारा चुदाई के ऐसे ही मज़े लेंगे.

शारीरिक संबंध बनाने के लिए

जैसे ही उसका लंड मेरी चूत में प्रवेश हुआ तो मुझे दर्द महसूस होने लगा और बहुत तकलीफ होने लगी परंतु मैं राजीव का विरोध नहीं कर पाई। राजीव ने उस दिन मेरी चूत के मजे लिए जैसे ही राजीव का वीर्य मेरी योनि के अंदर गिर गया

मम्मी की चुदाई मुस्लिम लौडे से- 2

मैंने थोड़ी देर मम्मी की चूचिया दबाई.फिर मैंने मम्मी की चूचीयो को चूसना शुरू किया.फिर मम्मी को थोड़ा आराम आया.अब दोनो तरफ से धकको की स्पीड बड गई थी.साबिर केे अब्बू ऊपर से शॉट लगा रहे थे

वीर्य पतन योनि के अंदर कर दिया

मैंने अपने लंड को उसकी योनि पर रगडना शुरू किया और धीरे-धीरे उसकी योनि के अंदर अपने लंड को प्रवेश करवा दिया। मेरा लंड उसकी योनि के अंदर जाते ही उसके मुंह से चीख निकल पड़ी लेकिन मैंने उसका मुंह दबा दिया, उसे भी मजा आने लगा था।

जवानी के निशानी के लिए बुर चुदवानी पड़ती है

जब मैं उसकी बाहों में गई तो उसने मेरे स्तनों को दबाना शुरू किया और मेरे होठों को चूसना शुरू किया मेरे अंदर की गर्मी बढ़ने लगी थी, मैं अपने आप को काबू में ना रख सकी। उसने मेरे स्तनों को चूसना शुरू किया तो मेरे शरीर से गर्मी अधिक मात्रा में बढने लगी

चौकीदार के साथ मैंने भी मम्मी को चोद दिया- 2

उसने मम्मी के मुँह को पकड़कर अपना लंड मम्मी के मुँह में दे दिया और मैं मम्मी की चूत को चाट चाट कर चिकना कर रहा था. फिर फिरोज़ ने अपना लंड मम्मी के मुँह से निकाल कर उसकी चूत पर लगा दिया.उसका लंड टोपी दार था. उसने पहले झटके में ही आधे से ज्यादा लंड मम्मी की चूत में डाल दिया. मम्मी की चीख निकल गयी।

प्यासी चुत को अब ग्रुप मे लंड मिलने लगे

निखिल ने अपना लण्ड चूत से बहार निकला व चूत में थूक लगाकर चूत को और चिकना करके अपने लण्ड का सूपड़ा चूत में डाल दिया और मेरी कमर पकड़ कर ज़ोर ज़ोर से चूत मरने लगा. चूत से फच -फच की आवाजें आ रही थी

चुदने के लिए बेताब चुत लंड सक करने लगी

मैंने उसके कोमल होठों को चूसना शुरू किया उसे भी बहुत अच्छा महसूस होने लगा। जब हम दोनों एक दूसरे को किस करते तो मुझे बड़ा मजा आता मैंने जब अनीता के कपड़े उतारने शुरू किए तो उसके बदन से एक आग सी निकलने लगी। मेरे शरीर से भी गर्मी निकलने लगी मेरा शरीर तपता जाता।

सुधा के साथ वो रात- 1

मैंने अपना एक हाथ उसके ड्रेस के अंदर डाल दिया और जोर जोर से उसके चूचे दबाने लगा, वो सिसकारियाँ ले रही थी और तभी मैंने उसे वहाँ नीचे लिटा दिया और ऊपर का ड्रेस का टॉप निकाल दिया और ब्रा भी निकाल दी, साथ में मैंने अपनी शर्ट भी निकाल दी और फिर उसके ऊपर टूट पड़ा, पूरे गले पर, कंधे और पेट पर खूब चाटा।