निकक्मे पति की बीवी को चोदता

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम देवा है और मेरी उम्र 24 साल है. में राजस्थान का रहने वाला हूँ और मैंने बहुत सी स्टोरी पढ़ी है. आज में आपको एक सच्ची स्टोरी बताने जा रहा हूँ. यह 2 साल पुरानी बात है तब में याहू मैसेंजर पर बहुत चैटिंग करता था.

में हमेशा राजस्थान की लड़कियों से ही चैटिंग करता था, लेकिन मुझे कोई भी लड़की अच्छी नहीं लगती थी, क्योंकि ज्यादातर लड़कियाँ चैटिंग में टाईम पास करती थी. फिर एक दिन मुझे एक लड़की मिली तो मुझे उसका ई-मैल आई डी अजीब लगी, पहले मुझे लगा कि वो कोई विदेशी लड़की है, लेकिन मैंने उससे चैटिंग करनी शुरू की.

में – हाए आई एम देवा फ्रॉम राजस्थान एंड यू?

लड़की – हैल्लो डियर, माई नेम इज एकता, माई ऐज 22 ईयर फ्रॉम राजस्थान. (उसका नाम एकता था, उम्र 21 साल, फीमेल और वो राजस्थान की रहने वाली थी)

फिर जैसे-जैसे में उससे बात आगे बढ़ाता गया तो मुझे पता चला कि वो कोई नयी है, उसे चैटिंग करनी नहीं आती थी. खैर फिर में उससे चैटिंग करता रहा, तो उसने मुझे अपने बारे में बताया, तो मैंने भी उसे अपने बारे में बताया, वो मुझे अच्छी लगी.

में – तुम क्या कर रही हो?

लड़की – कॉलेज में हूँ.

में – क्या तुम्हारे बॉयफ्रेंड है?

लड़की – नहीं, मेरे कोई बॉयफ्रेंड नहीं है.

में – क्यों तुम्हें पसंद नहीं है?

लड़की – नहीं.

में – ओके.

फिर तो में रोज उससे चैटिंग करने लगा. फिर एक दिन मैंने उससे उसका फोटो भेजने को बोला.

में – क्या तुम्हारे पास तुम्हारा फोटो है?

लड़की – हाँ

में – आपका फोटो भेजो, मुझे तुम्हारा फोटो देखना है.

लड़की – नहीं.

में – क्यों?

लड़की – पहले तुम तुम्हारा फोटो भेजो.

में – ओके.

फिर मैंने उसे अपना फोटो भेज दिया, तो दूसरे दिन उसने भी अपना पासपोर्ट साईज़ फोटो भेज दिया. उसका फोटो साफ़ नहीं था, लेकिन मैंने उससे कहा कि तुम दिखने में बहुत सुंदर और सेक्सी हो. फिर अगले दिन मैंने उससे उसका मोबाईल नंबर माँगा, तो उसने अपना मोबाईल नंबर भी दे दिया. अब हम लोग रोज फोन पर घंटो बातें करने लगे थे.

फिर एक दिन मैंने उससे कहा कि में उससे मिलना चाहता हूँ, तो वो मान गयी और हमने मिलने की जगह और टाईम फिक्स किया, वो जगह थी राजस्थान की एक फेमस वर्ली स्टेशन और टाईम शाम का 7 बजे का था.

फिर हमने एक दूसरे को अपना ड्रेस कोड बताया, मेरा ड्रेस कोड ब्लेक पेंट और लाईट पिंक शर्ट था और उसका ड्रेस कोड स्काई ब्लू जीन्स और वाईट टी-शर्ट था और फिर में उससे मिलने वर्ली स्टेशन पहुँच गया. अब मुझे डर भी लग रहा था तो में नेवी ब्लू पेंट और शर्ट वाईट पहनकर चला गया. अब में वर्ली स्टेशन के ब्रिज पर खड़ा था, तो तभी मेरी नजर एक लड़की पर पड़ी, जो बार-बार अपनी घड़ी देख रही थी, उसने ब्लू जीन्स और वाईट टी-शर्ट पहन रखी थी, लेकिन अब मेरी हिम्मत नहीं हो रही थी कि उसके पास जाऊं और कहूँ कि में ही देवा हूँ.

फिर मैंने देखा कि वो अपने मोबाईल से फोन करने लगी, तो मेरा मोबाईल बजने लगा. फिर उसने मेरी तरफ देखा, तो मैंने भी उसे देखा और फिर उसने अपनी नजर हटा लिया और मोबाईल को अपने कानों से लगा लिया. अब तक में समझ चुका था ये एकता ही है.

फिर मैंने अपना कॉल उठाने का बटन दबाया, तो उधर से आवाज़ आई देवा तुम कहाँ पर हो? में एक घंटे से तुम्हारा इंतजार कर रही हूँ अगर तुम नहीं आ रहे हो तो में चली जाती हूँ. तो यह बात सुनते ही मुझे गुस्सा आ गया तो में सीधे उसके पास चला गया और बोला कि क्या कहा तुमने तुम एक घंटे से यहाँ आई हो? में तुमसे पहले से ही यहाँ खड़ा हूँ और में तुम्हें कब से देख रहा हूँ?

फिर इस बात पर वो ज़ोर-ज़ोर से हंसने लगी और बोली कि में जानती हूँ अगर में ऐसा नहीं बोलती तो तुम मेरे पास नहीं आते, तो इस बात पर में भी मुस्करा दिया. अब में आपको एकता के बारे में बता दूँ, वो बहुत ही सुंदर थी, उसकी हाईट लगभग 5 फुट 2 इंच थी और फिगर 36-26-36 होगा. मुझे तो वो एक नजर में ही अच्छी लगी थी, अब मुझे तो ऐसा लगा कि बस अब तो पूरी जिंदगी इसके साथ ही गुजारनी है. फिर हम वर्ली स्टेशन के बाहर आए और मैंने उससे पूछा कि कहाँ चलोगी? तो उसने जवाब दिया कि कहीं भी ले चलो.

मैंने उसे अपनी बाइक पर बैठा लिया और उसे एक रेस्टोरेंट में ले गया और फिर हम बातें करने लगे. फिर उसने मुझे बातों ही बातों में बताया कि वो मुझे पसंद करती है. तो मैंने भी उससे बोल दिया कि में भी उसे पसंद करता हूँ.

फिर अचानक से वो चुप हो गयी और रोने लगी, अब उसकी आँखों से आँसू आने लगे थे. फिर मैंने उससे पूछा कि क्या बात है? तो उसने मुझसे कहा कि मैंने तुमसे एक झूठ कहा था. तो मैंने पूछा कि क्या झूठ? तो उसने बताया कि में शादीशुदा हूँ और मेरी उम्र 24 साल है, तो मुझे जैसे एक ज़ोरदार झटका सा लगा.

फिर उसने मुझे आगे से बताया कि मेरी शादी मेरे घरवालो ने जबरदस्ती एक लड़के से करा दी थी, जो दिमाग से कमजोर (पागल) है, में उसके साथ नहीं रहना चाहती प्लीज मुझे यहाँ से निकालो, मेरा उस पागल से पीछा छुडाओं.

फिर एक बार तो मुझे उसके ऊपर बहुत गुस्सा आया, लेकिन मुझे उसके ऊपर तरस भी आ रहा था. फिर कुछ देर सोचने के बाद मैंने उससे कहा कि ठीक है में तुम्हारी मदद करने के लिए तैयार हूँ, लेकिन मुझे क्या मिलेगा? तो उसने कहा कि में तुम्हारी हमेशा के लिए हो जाउंगी.

फिर मैंने कहा कि लेकिन तुम्हारी तो शादी हो चुकी है, तो उसने कहा कि में अभी तक कुँवारी हूँ, उस पागल ने मुझे अभी तक छुआ तक नहीं है, उसे तो यह भी नहीं पता है कि सुहागरात क्या होती है?

मैंने कहा कि में कैसे मान जाऊं कि तुम कुँवारी हो? तो उसने कहा कि तुम मुझसे शादी करो और सुहागरात मनाओ, अपने आप पता चल जाएगा.

फिर मैंने कहा कि नहीं में तुमसे अब शादी नहीं कर सकता, तुम मेरे साथ बिना शादी के रह सकती हो. तो उसने कहा कि नहीं ये नहीं हो सकता. फिर मैंने कहा कि मेरे घरवाले नहीं मानेंगे कि में किसी शादीशुदा लड़की से शादी करूँ.

फिर कुछ देर सोचने के बाद वो मान गयी, तो उसने कहा कि ठीक है, लेकिन मेरी कुछ शर्ते है, तुम मुझसे हमेशा प्यार करोंगे, मेरी सारी जरूरतो को पूरा करोंगे, मुझे अपनी पत्नी की तरह ही रखोंगे. तो मैंने उसकी सारी शर्ते मान ली (आप सबको लग रहा होगा यह सब एक ही मुलाकात में संभव नहीं है, लेकिन ऐसा ही हुआ था, शायद यह सब उस लड़की की मजबूरी थी) फिर मैंने एक अच्छे से वकील से उसका तलाक करवा दिया और उसे एक किराए पर फ्लेट दिला दिया. अब वो मेरी हो चुकी थी, लेकिन मैंने अभी तक उसे टच तक नहीं किया था.

फिर मैंने उससे कहा कि अब तो तुम मेरी हो, अब तो मेरे पास आ जाओ.

फिर वो मुझसे लिपट गयी, तो मैंने उसे गोद में उठा लिया और उसे बेडरूम में ले गया. फिर मैंने उससे कहा कि तुम्हें कैसा लग रहा है? तो उसने कहा कि बहुत अच्छा, आज से आप मेरे स्वामी हो और में आपकी दासी हूँ और फिर मैंने उसे धीरे-धीरे गर्म करना शुरू किया. फिर पहले मैंने उसे चूमना शुरू किया और फिर मैंने पहले उसके लाल-लाल गालों पर चुंबन लेना शुरू किया.

अब मैंने उसके होंठो पर अपने होंठ रख दिए थे और उसके रसीले होंठो को चूसने लगा था, उसके होंठ सचमुच में बहुत ही रसीले थे. फिर मैंने अपनी जीभ उसके मुँह में डाल दी, तो उसने भी अपनी जीभ मेरे मुँह में डाल दी. अब मुझे बहुत अच्छा लग रहा था. फिर में उसके बूब्स को धीरे-धीरे दबाने लगा और अभी हम बेड पर बैठे थे इसलिए ठीक से कुछ जम नहीं रहा था.

फिर मैंने उसकी टी-शर्ट और जीन्स उतार दी और अब वो मेरे सामने पेंटी और ब्रा में थी. फिर मैंने उसे बेड पर लेटा दिया और उसे फिर से चूमना शुरू किया. अब वो भी मेरा साथ दे रही थी और वो बीच-बीच में सिसकारियाँ भी ले रही थी. फिर मैंने धीरे-धीरे उसकी ब्रा और पेंटी भी उतार दिए, अब वो बिल्कुल नंगी थी.

फिर उसने मुझसे कहा कि मुझे तो नंगा कर दिया और खुद कब नंगे होंगे? तो मैंने भी जल्दी-जल्दी अपने सारे कपड़े उतार दिए और उसके ऊपर आ गया. अब में उसके बूब्स को सहलाने और दबाने लगा था, अब वो गर्म हो चुकी थी. फिर में धीरे-धीरे उसे चूमते हुए उसकी टांगो के बीच में आ गया और उसकी टांगो को फैलाकर उसकी चूत को चाटने लगा.

अब उसके मुँह से आवाजे आने लगी थी ईईएसस्स्स्स्सस्स और जोर से, आहह, आहह. फिर मैंने अपनी जीभ उसकी चूत में डाल दी तो कुछ ही देर के बाद एक नमकीन सा गाड़ा पानी उसकी चूत से बहने लगा, तो में उसका सारा पानी पी गया. फिर में उठा और अपना 7 इंच का लंड उसके मुँह के पास लाया और उससे कहा कि इसे अपने मुँह में लेकर चूसो.

फिर उसने कहा कि मुझे लंड चूसना नहीं आता है. तो मैंने कहा कि आइसक्रीम की तरह चूसो, तो उसने मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगी.

अब मुझे ऐसा लग रहा था कि में स्वर्ग में हूँ, अब एक बहुत ही सुंदर और सेक्सी लड़की मेरा लंड चूस रही थी और मैंने ऐसा कभी सपने में भी नहीं सोचा था. फिर कुछ देर के बाद में उसकी टांगो के बीच में आ गया और अपने लंड का सुपड़ा उसकी चूत पर रखकर एक धीरे से एक धक्का मारा, तो वो चिल्लाने लगी कि देवा प्लीज इसे बाहर निकालो, ये बहुत बड़ा है, मुझे बहुत दर्द हो रहा है, प्लीज इसे बाहर निकालो, आाआईईईईईईईई में मर गयी. फिर मैंने कहा कि कुछ नहीं होगा और तुम्हें इस दर्द के बदले जो खुशी तुम्हें मिलने वाली है वो इस दर्द से बहुत ज़्यादा है.

फिर मैंने अपने होंठ उसके होंठो पर रखकर एक ज़ोर से धक्का लगाया तो मेरा आधा लंड उसकी चूत में घुस गया और फिर कुछ देर रुककर मैंने और एक धक्का लगाया तो मेरा पूरा लंड उसकी चूत में चला गया. अब में उसे धीरे-धीरे चोदने लगा था, फिर कुछ देर तक चोदने से उसे भी मज़ा आने लगा.

अब में उसे और जोर-जोर से चोदने लगा था और अब वो भी अपनी गांड उठा-उठाकर मेरा साथ देने लगी थी. अब मेरा लंड एक जवान सुंदर लड़की की चूत में अंदर-बाहर हो रहा था और फिर में उसे चोदता रहा, चोदता रहा, उसकी चूत इतनी टाईट थी कि में आपको बता नहीं सकता.

फिर करीब 30 मिनट तक चोदने के बाद मेरा घड़ा भर गया और मैंने एक ज़ोरदार झटके के साथ अपना सारा पानी उसकी चूत में ही छोड़ दिया. अब उसकी चूत मेरे वीर्य से भर गयी थी, अब इस बीच वो 2 बार झड़ चुकी थी. फिर मेरा लंड कुछ ढीला हुआ तो में उसके ऊपर से उठ गया तो मैंने बेड पर देखा कि बेडशीट पर खून गिरा था और मेरे लंड पर भी खून लगा था और उसकी चूत से भी थोड़ा खून बह रहा था. अब में समझ गया था कि ये लड़की कुँवारी है और मैंने ही इसकी सील तोड़ी है, अब एकता बहुत खुश थी.

फिर उस दिन मैंने उसे 3 बार और चोदा. अब तो वो मेरी रखैल बनकर रह गयी है, में तो उससे शादी करना चाहता था, लेकिन मेरे घरवाले इस रिश्ते को कबूल नहीं करते. में अब भी जब मेरा मन करता है उसके यहाँ जाता हूँ और उसे खूब चोदता हूँ, क्या करूँ? में इससे ज़्यादा कुछ भी नहीं कर सकता हूँ. में उससे शादी तो कर नहीं सकता और वो भी मेरी रखैल बनकर खुश है, में कम से कम उस पागल से तो अच्छा हूँ जो उसे चोद सके.