बहन की चुदाई की अनोखी कहानी- 2

कार्तिक अपने लण्ड को धीरे-धीरे से सुनीता की चूत के अन्दर-बाहर कर रहा था। फिर कुछ देर बाद सुनीता ने अपनी टांगें उपर की तरफ मोड़ ली और कार्तिक की कमर के दोनों तरफ लपेट ली। कार्तिक अपने लण्ड को लगातार धीरे-धीरे सुनीता की चूत के अन्दर-बाहर कर रहा था। धीरे-धीरे कार्तिक की रफ़्तार बढ़ने लगी। अब कार्तिक का लण्ड सुनीता की चूत में तेजी से अन्दर-बाहर हो रहा था। कार्तिक सुनीता की चूत में अपने लण्ड के तेज-तेज धक्के मारने लगा था।

थोड़ी देर में सुनीता भी नीचे से अपनी कमर उचका कर कार्तिक के धक्कों का ज़वाब देने लगी और मज़े में बोलने लगी ” सी … सी… और जोररर से……. येसस्स्स्स्सअरररऽऽ बहुत मज़ा आ रहा है और अन्दर डालो और कार्तिक और अन्दर येस्स्स्स्सऽऽ जोर से करो। प्लीज़ ! कार्तिक तेज-तेज करो ना। आज मुझे बहुत मज़ा आ रहा है।”

सुनीता को सचमुच में मजा आने लगा था। वो जोर जोर से अपने कूल्हे हिला रही थी और कार्तिक तेज़-तेज़ धक्के मार रहा था। वो कार्तिक के हर धक्के का स्वागत कर रही थी। उसने कार्तिक के कूल्हों को अपने हाथों में थाम लिया। जब कार्तिक लण्ड उसकी चूत के अन्दर घुसाता तो वो अपने कूल्हे पीछे खींच लेती। जब कार्तिक लण्ड उसकी चूत में से बाहर खींचता तो वो अपनी जांघें उपर उठा देती। कार्तिक तेज-तेज धक्के मार कर सुनीता को चोदने लगा। फिर कार्तिक बैड पर हाथ रख कर सुनीता के ऊपर झुक कर तेजी से उसकी चूत मारने लगा। अब कार्तिक का लण्ड सुनीता की चिकनी चूत में आसानी और तेजी से आ-जा रहा था। सुनीता भी अब चुदाई का भरपूर मजा ले रही थी। वो मदहोश हो रही थी।
कार्तिक ने रुक कर सुनीता से कहा, “सुनीता अच्छा लग रहा है ?”

सुनीता बोली,”हाँ कार्तिक बहुत अच्छा लग रहा है। प्लीज़ ! रुको मत। तेज-तेज करते रहो। हाँ प्लीज़ ! तेज-तेज करो। कार्तिक में डिस्चार्ज होने वाली हूँ। प्लीज़ ! चलो करो। अब रुको मत। तेज-तेज करते रहो।”
सुनीता के मुहँ से ये सुन कर कार्तिक ने फिर से सुनीता को चोदने शुरु कर दिया और अपनी रफ्तार को और बढ़ा दिया। कार्तिक ने सुनीता के बड़े-बड़े हिप्स को अपने हाथों से जकड़ लिया और छोटे-छोटे मगर तेज-तेज शॉट मार कर सुनीता को चोदने लगा। सुनीता के मुँह से मस्ती में “ओह्ह्ह्ह्ह्होहोहोह सिस्स्स्स्स्स्सह्ह्ह्ह्ह्ह्ह हाहाह्ह्हआआआआ हा-हा करो-करो ऽअआह हाहअआ प्लीज़ ! कार्तिक तेज-तेज करो।”

करीब 15 मिनट की चुदाई के बाद वो झड़ने वाली थी तभी दोनों एक साथ अकड़ गये और एक साथ जोर-जोर से धक्के मारने लगे। फिर अचानक सुनीता ने कार्तिक को कस कर अपनी बाँहो में भर लिया और बोली “कार्तिक कार्तिक का काम होने वाला है। प्लीज़ ! जोर-जोर से करो येस-येस अररर् और जोर से य…य…यस यससस कार्तिक हो गईईईईईईई…! इसके साथ ही सुनीता की चूत ने अपना पानी छोड़ दिया। उसने एक जोर से आह भरी और फिर वो ढीली पड़ गई।

कार्तिक समझ गया कि सुनीता डिस्चार्ज हो गई है। लेकिन कार्तिक का काम अभी नहीं हुआ था इसलिए कार्तिक जोर-जोर से अपने लण्ड से सुनीता की चूत को पेलने लगा। कार्तिक भी डिस्चार्ज होने वाला था, इसलिये कार्तिक तेज-तेज धक्के मारने लगा। सुनीता रोने सी लगी और कार्तिक के लण्ड को अपनी चूत में से बाहर निकालने के लिए बोलने लगी। लेकिन कार्तिक ने उसकी बातों को अनसुना कर धक्के लगाना जारी रखा।

करीब 2-3 मिनट तक सुनीता को तेज-तेज चोदने के बाद जब कार्तिक डिस्चार्ज होने लगा तो कार्तिक ने अपना लण्ड सुनीता की चूत से बाहर खींच लिया और उसकी चूत के झांटों उपर डिस्चार्ज हो गया और उसके ऊपर गिर गया। फिर कार्तिक उसके उपर लेट कर अपनी तेज-तेज चलती हुई सांसों को नार्मल होने का इन्तज़ार करता रहा। फिर कार्तिक सुनीता की बगल में लेट गया। सुनीता भी कार्तिक के साथ लेटी हुई अपनी सांसों को काबू में आने का इंतजार कर रही थी।

सुनीता की चूत के काले घने घुंघराले बालों में कार्तिक के वीर्य की सफेद बून्दे चमक रही थी। मैंने कैमरा ऑफ कर के रख दिया और शोभा से कहा क्यों आंटी कैसा लगा शो. शोभा बोली अरे कार्तिक तो पहले ही बार में इतनी देर टिका रहा कमाल है. मैंने कहा अरे इसको भी दवाई खिलाई थी अरे आखिर मेरी बेहेन की पहली चुदाई थी तो धमाकेदार तो होनी ही चाहिए थी. शोभा बोली अब जब इसको होश आयेगा तब यह बवाल करेगी. मैंने कहा अभी तो यह नशे में सो गयी है. १ घंटे में इसको होश आयेगा तब तक मैं यहाँ से निकल जाऊँगा आप इसको दो दिन यही रखो और बोलो की किसी को कुछ बोला तो विडियो इन्टरनेट पर लोड कर देंगे.

यह डर कर किसी को कुछ नहीं बोलेगी और अब इसको होश में चुदवाना. एक बार चुदाई की आदत हो जाये बस खुद ही दौड दौड कर आयेगी कार्तिक से चुदवाने. चलो अब इसको होश ए उससे पहले अपन एक राउंड खेल लेते है. फिर में शोभा को चोद कर घर चला आया. रात को मैंने फोन पर शोभा से पुछा की सुनीता के क्या हाल है तो शोभा ने बताया की होश में आने के बाद सुनीता ने बहुत बवाल किया और जब उसको विडियो दिखा कर धमकाया तो वो शांत हुई और अब तो कार्तिक उसको तीसरी बार चोद रहा है और वो बहुत मज़े ले ले कर चुदवा रही है. मैंने कहा स्वामी जी ने तो एक हफ्ते का टाइम दिया था और कार्तिक ने तो एक दिन में ही तीन बार चोद डाला मेरी प्यारी दीदी को.

कहानी जारी है ….. आगे की कहानी पढने के लिए निचे लिखे पेज नंबर पर क्लिक करे …..