पड़ोसन की आहिस्ता आहिस्ता चुदाई

मैंने अपना लंड उसकी चूत के छेद के पास रख दिया और उसने बिस्तर पर लेटकर अपने दोनों पैर चौड़े कर लिए। अब में धीरे धीरे अपना लंड अंदर डालने लगा।

जीजा ने अपने सेठों से मुझे चुदवाया- 6

अभय मेरे दोनों दूध कस के पकड़ के दबा दिए. मैं बोली मेरे जीजा ने तो सब कुछ आपको बता दिया कमीने के पेट में दारु पीने के बाद कुछ नहीं पचता है, पर कोई बात नहीं आप दोनों ने मुझे अभी अभी बहुत पागल कर दिया है.

टीना ऑन्टी बनी मेरी रांड -3

मैं कुतिया बनी ऑन्टी के पीछे आया ओर चुत रस से भीगी ऑन्टी की चुत ओर गांड को अपनी जीभ से चाटने लगा। साली की गांड का छल्ला भी क्या मस्त था गोल गुलाबी रंग का।

जीजा ने अपने सेठों से मुझे चुदवाया- 5

दोनों हथेली से मेरी चूंत की छेंद को और चूंत की क्लिंट को जोर से दबाया और अंगुलियों से रगड़ने लगा, मैंने विवेक के बालों को पकड़ लिए तभी विवेक जोर से अपना अंगूठा मेरी चूंत में डाला कि मेरे मुंह से सी सी उंहह उंहह की आवाज निकल पड़ी.

सुन्नू भाभी के तनमन की वासना

में उसको चूम लिया और फिर उसने अपनी स्पीड बढ़ाई तो मैं भी स्वर्ग के मज़े लेने लगा। करीब 6-7 मिनट जोरों से चुदाई के बाद वो अकड़ सी गई और जोरदार किस करने लगी और वो झड़ गई।

टीना ऑन्टी बनी मेरी रांड -2

ऑन्टी की गांड के छेद पर जीभ रखकर चाटते हुए चुत तक आता और चुत से गांड तक। मरे इस हरकत से ऑन्टी बहुत उत्तेजित हो गयी और सिसकारी लेते हुए हाफने लगी साथ ही कहने लगी।
ऑन्टी- आह इ इ इ इ ,मुझे और न तड़पा मादर चोद

जीजा ने अपने सेठों से मुझे चुदवाया- 4

जीजा बोले अरे कुत्तिया मेरी तू सेक्सी साली है तुझे ऐसे कैसे छोड़ दूं वह भी जब तू पूरे एरिया में बदनाम है। बंध्या मैं कोई पहरा थोड़ी देता हूं कि तू किस किस से मिल रही है क्या क्या कर रही है पर जैसे तू गरम रहती है

जीजा ने अपने सेठों से मुझे चुदवाया- 3

मैं अब तड़पने लगी मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था कि क्या करूं और ना किसी काम में मन लग रहा था बस यही मन में आए की कैसे कोई मुझे चोद दे बहुत अंगड़ाई आ रही थी मुझे ऐसा पहले कभी नहीं लगा था। हर 15 से 20 मिनट में मेरी पेंटी गीली हो जा रही थी चूंत से अपने आप पानी निकल रहा था.

टीना ऑन्टी बनी मेरी रांड -1

आंटी ने मेरा लोअर चढ़ी सहित निचे खींचा और मेरे लोड़े लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी। लोड़े पर आंटी दारू डालकर पीने लगी और वह लौड़ा चूस रही थी कि मुझे ऐसा लग रहा था कि मैं अभी झड़ जाऊंगा।

दूसरा पड़ोसी चोदू -2

काजल को सीधा लेटा कर वो उसकी चुत मारने लगे। काजल पुरे मस्ती में चीख चीला रही थी मैं भी अपनी चूति काजल से चुस्वा रही थी और अपनी जीभ से उसकी चुत के दाने को छेड़ रही थी वो बर्दास्त नही कर सकी मेरी चूति को दांतों से पकड़ मममम करते झड़ने लगी।