शादी के बाद क्या करना चाहिए आपने कभी सोचा

शादी के बाद क्या करना चाहिए आपने कभी सोचा अगर नहीं सोचा तो यह पढ़े और अपने दोस्तों को पढ़ाये दोस्तों हर किसी के मन में एक ही विचार होता है की शादी के बाद बस सेक्स करना है पर एसा नहीं होता है दोस्तों शादी के बाद सेक्स के अलावा और भी बहुत कुछ होता है जो आज हम आपको बताएँगे की शादी के बाद क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना है | ज्यादातर लोगों के लिए शादी का उद्देश्य अपने जीवन साथी के साथ शारीरिक संबंध बनाना होता है। क्योंकि शादी के बाद सेक्स एक तो वैध होता है वहीं दूसरी ओर इसमें शर्म या हया कि कोई गुंजाईश नहीं होती। पुरुष व स्त्री शादी के बाद के इन संबधों को भिन्न-भिन्न तरीके से देखते हैं।

पुरुष इसे शादी के केक पर मिठाई की तरह देखता है तो वहीं स्त्री इसे अपनी आशाओं की पाराकाष्ठा के रूप में देखती है। लेकिन सवाल उठता है कि शारीरिक संबंध शादीशुदा जिंदगी के लिए कितने महत्वूर्ण है? क्या शारीरिक संबध के बिना सुखी वैवाहिक जीवन की कल्पना नहीं की जा सकती? आइए जानते हैं।

कई शादी सलाहकारों के मुताबिक जब शादीशुदा जोड़े का हनीमून पीरियड खत्म हो जाता है तो दोनों में सेक्स को लेकर बहस शुरू हो जाती है, लेकिन सेक्स उन्हें फिर से एक दूसरे के करीब ले आता है। शादी के बाद दोनों के बीच कभी कभार समस्याएं भी आती हैं जब पुरुष शारीरिक संबध बनाने को लेकर अपनी इच्छा जताता है और स्त्री नहीं चाहती।

इसके दो नजरिए होते हैं। स्त्री शारीरिक संबंध पुरुष के करीब रहने के लिए बनाती है उसे उसके साथ सटकर सोना और दुलार दिखाना ज्यादा अच्छा लगता है और वह मानसिक तौर पर अपने पति से जुड़े रहना चाहती है। वहीं पुरुष के लिए सेक्स सिर्फ सेक्स होता है।

कभी कभार स्त्री को इस बात को लेकर हैरत भी होती है कि उसमें शारीरिक संबंध बनाने को लेकर इच्छा जाग्रत क्यों नहीं हो रही है। वहीं पुरुष भी इसको लेकर हैरत में रहता है कि उसे हर समय शारीरिक संबध बनाने को लेकर ही क्यों जल्दबाजी होती है। हालांकि ये स्त्री और पुरुष की भिन्न प्रकृति है।

जैसे जैसे दिन गुजरते जाते हैं, दोनों के बीच शारीरिक संबध बनाने को लेकर उदासीनता आती जाती है। और आखिरकार दोनों के बीच शारीरिक संबंध बनना लगभग बंद हो जाता है। ऐसे में कई दिनों तक दूर रहने के बाद जब वे शारीरिक संबंध बनाते हैं तो दोनों के बीच कुछ पहले जैसा नहीं होता और फिर से उनका शारीरिक संबध के प्रति मोह भंग होने लगता है। लेकिन अच्छे शारीरिक संबंधों की याद लंबे समय तक रहती है।

जब लोगों के वैवाहिक संबंध टूटने की कगार पर आ जाते हैं तो शादी सलाहकार कहते हैं कि आपको अपने संबंधों की जड़ों को टटोलना चाहिए और जानने की कोशिश करनी चाहिए कि आखिर क्या ऐसी चीज है जो आपसे अनजाने में छूट रही है।

शादी के उपरांत दोनों के संबंधों को सबसे महत्वपूर्ण क्या बनाता है जाहिर है कि शारीरिक संबंध। शारीरिक संबंध आपको अपने जीवन साथी के एक साधारण तौर पर कमरा साझा करने से ज्यादा बनाता है।

शादी के बाद क्या करना चाहिए, पति पत्नी की पहली रात : यदि आप जल्दी ही शादी करने जा रहे है तो आपके मन मे सेक्स को लेकर कई सवाल होंगे. देखा गया है की, शादी से पहले पुरुषो के मन मे अक्सर ये सवाल होते है की, वो कब और केसे राज़ी होगी ?

अगर मैंने शुरुआत की तो वो मेरे बारे मे क्या सोचेगी. वैसे ही महिलाएँ सोचती है की, क्या वो पहले शुरुआत करेगी. क्या मुझे शुरुआत करनी चाहिए.

वैसे बहुत से बार यार, दोस्त ऐसी बात को लेकर बहुत मज़ाक भी करते है. लेकिन सही मायने मे यह मज़ाक नही होता, यह तो जीवन का बहुत ज़रूरी हिस्सा होता है जिससे दो लोग बहुत करीब आकर जीवन भर के लिए जुड़ जाते है.

वैसे देखा जाए तो शादी से पहले महिलाएं और पुरुष दोनो को ही अपनी पहली रात जिसको सुहागरात कहा जाता है उसको लेकर चिंता होती है. लेकिन डरे नही आज हम आपको फर्स्ट टाइम सेक्स टिप्स के बारे मे बताएँगे.

सुहागरात के टिप्स : Suhagrat ki Jankari

  • ज़रूरी नही की शादी की पहली रात पुरुष ही शुरुआत करे, दोनो मिलकर भी स्टार्ट कर सकते है. क्योकि अगर दोनो एक दूसरे का साथ देंगे तो किसी के भी मन मे उत्सुकता नही रहेगी.
  • सुहागरात के दिन अधिक उत्सुक होने से बचना चाहिए. आपने व्यहवार को सामान्य बनाए रखे. बहुत सारे सपनो को एक साथ ना संजोए. उस रात जो भी हो उससे सहज भाव से स्वीकार करें.
  • सेक्स करने से पहले से पहल आपने साथी से बात करें. आपनी सारी शंकाओं का समाधान निकले.
  • पति-पत्नी के बीच जीवन भर का सम्बन्ध है तो उसकी शुरुआत अच्छे से करे, ताकि आगे का जीवन बहुत अच्छे से निकले.
  • अपने पत्नी को सर्प्राइज़ दीजिए, जो उसको पसंद आए, इससे रात ओर रोमांटिक होगी.
  • सेक्स करने से पहले फोरप्ले कीजिए.
  • सेक्स के दौरान ऐसे आसन या तरीके अपनाइए जो सुविधाजनक हो, इस रात नये एक्सपेरिमेंट ना करे.
  • अगर आप सोच रहे है की सेक्स से पहले संभोग की बाते करने से आपकी इमेज बोल्ड बनेगी तो ऐसा नही है. इससे आपके बीच अंडरस्टैंडिंग बढ़ती है.
  • पत्नी की भावनाओ का ध्यान ज़रूर रखे. उसकी इक्षाओं को नज़रअंदाज ना करे.
  • उपर हमने आपको फर्स्ट टाइम सेक्स टिप्स के बारे मे बताया है. तो आप इन बातो का ध्यान अपने जीवन मे ज़रूर रखे.