क्यों कुत्ते सेक्स करने के बाद भी एक दूसरे से चिपके रहते हैं ?

जी हा दोस्तों जो अपने इस पोस्ट का शीर्षक पढ़ा सही है आज हम यंहा इसी प्रकिया की जानकारी देंगे । लोगो में सही जानकारी के आभाव की वजह से अलग अलग धारणाएं पनपती है । जब गली में दो कुत्ता प्रजाति के जीव आपस में सम्भोग करते हैं तो कुछ समय बाद आप देखते हैं की नर कुत्ता अपने आप को अलग करने की कोशिश कर रहा है और उसका लिंग मादा की योनि में अटक गया है ।

ऐसे समय पे पास से गुजर रहे सामान्य व्यक्ति की कोशिश होती है की वो कुत्ते को अलग करे । इसी कोशिश में वो कुत्ते को डंडे से मारता है । जो की गलत है । ऐसे समय पे कुत्ते को नहीं मारना चाहिए । उनको उनके हाल पे छोड़ना ही इस समस्या की सबसे सही सलूशन है ।

होता क्या है कि , नर कुत्ते का लिंग , योनि के अंदर जाने के बाद सूज जाता है ।

ये एक प्राकृतिक प्रक्रिया है । यह प्रक्रिया १५-२० मिनट तक भी चल सकती है । हमें चाहिए की ऐसे समय पे उनको अलग करने की कोशिश न करे ।

नर कुत्ते के लिंग के अंदर एक छोटी सी हड्डी पायी जाती है जिसे Baculum (बकलम ) कहते है । ये हड्डी कुत्ते को सम्भोग करने में मदद करती है । एक बार लिंग के योनि में परवेश के उपरान्त , लिंग की जड़ में पायी जाने वाली ग्रंथि जिसका नाम बल्बस ग्लाँडिस (Balbus Glandis ) होता है , में खून का थक्का जमना चालू हो जाता है । जिसकी वजह से लिंग की मोटाई बढ़ने लगती है ।

कभी कभी मादा कुत्ता घबराहट की वजह से उथल पुथल करती है जो की नर कुत्ते के लिए कठिनाई का विषय बन सकती है ।

अतः आप कभी ऐसे होते हुए देखे तो कुत्तो को मारे नहीं बल्कि उन्होंने ज्यो का त्यों छोड़ दे । वो प्राकृत रूप से कुछ समय बाद खुद ही अलग हो जायेंगे ।

ऐसा नहीं है की ये समस्या सिर्फ कुत्तो में पायी जाती है । कई बार ऐसे वाकये दर्ज किये गए हैं जन्हा पर पति पत्नी को सेक्स के तुरंत बाद हॉस्पिटल जाना पड़ा हो । मनुष्यों के संसार में इसे कई लोग भ्रान्ति समझ सकते हैं । पर ये वाकई में एक हकीकत है ।

>>सेक्स से संबधित अधिक जानकारियों के लिए यहाँ क्लिक करें <<