Tag: mastaramsexstories

मुठ मारना छोड़ चोदना शुरू कर दिया- 4

कुतिया रंडी, तूने मेरे पैसे चुराए थे। तेरे को चाल में बुलाने के लिए मैंने अपनी प्यारी सहेली शीतल को चाल से निकालने के लिए खेल खेला और तू ही मेरे पैसे चुरा ले गई। तुझे तो दो दो लण्डों से चुदवाऊँगी।

मस्ती मे सराबोर होकर चुदाई करवाई

बिनोद मेरे उरोज सहलाता, फिर कभी हिप को सहलाता, १० मिनट तक ऐसे ही पड़े पड़े मैंने उसे बहुत गालियाँ दी फिर भी वो बेचारा चुपचाप मुझे प्यार से सहलाता रहा ! फिर धीरे धीरे उसने अपना लंड हिलाना शुरू किया, जब मुझे मज़ा आना शुरू हुआ.

दो औरतों की गाँड़ चाटी और चुदाई

मैंने डॉगी स्टाइल में करके उनको अपना 8 इंच का लंड उनकी गांड पर टिका दिया और एक झटके में पूरा अंदर घुसा दिया और उसके बाद 1 घंटे तक लगातार उनकी गांड की चुदाई की फिर भाभी बोली में बहुत अच्छा लग रहा है.

पत्नी को छोड़ दूसरे की चुदाई का मजा

मैं ज्यादा देर तक उसकी चूत के मजे ना ले सका कुछ क्षणो बाद मेरा वीर्य पतन हो गया जैसे ही मेरा वीर्य पतन हुआ तो विजया ने मेरे लंड को अपने मुंह में लेकर सकिंग करना शुरू कर दिया। वह मेरे लंड को चूस रही थी तो मुझे बहुत मजा आ रहा था कुछ ही देर बाद मेरा लंड दोबारा से खड़ा हो गया।

सास के मुह मे वीर्य भर डाला

मैंने उनकी गांड के अंदर अपने लंड को तेल लगाकर डाला तो वह उछल पड़ी। वह कहने लगी मेरी गांड में आपने दर्द कर दिया लेकिन मैं उनको धक्के देता जाता। वह मेरा पूरा साथ दे रही थी मैंने उनकी गांड को छिल कर रख दिया था।

गांड मारने की प्रक्रिया मे मजा आया

उन्होने अपनी चूतडो को मेरी तरफ कर लिया वह कहने लगी आप मेरी चूत मार लो। मैंने अपने लंड को भाभी की चूत के अंदर डाल दिया मेरा लंड चूत में घुसा तो वह चिल्लाने लगी। मैंने उनकी चूत के अंदर लंड को डाल दिया था जिससे कि उन्हें बहुत दर्द होने लगा.

अजनबी मेरी चुचिया पकड़ मसलने लगा

उस पूरी रात वो लडक़ा मेरे घर पर ही रुका और पूरी रात उसने मेरी और माया की कई बार चुदाई की और साथ में मेरी गांड भी मारी । गांड मारवाने में बहुत दर्द हुआ पर अच्छा भी बहुत लगा अब जब भी मेरी चुदाई करवाती हूँ तो गांड जरुर मारवाती हूँ .

चाची को अपनी रंडी बना दिया

लंड को खडा करके चाची ने कहा की कहा डालेगा तो रंडी को कुतिया बना का गांड में लंड का सुपाडा डाल दिया और 1 घंटे बाद मै चाची की गांड मे के वहीं झड़ गया और हम दोनो साथ में नहाने चल गए।

कुल्फी की तरह लंड चूस के चुदवाई

मैं भी गांड उठा उठा कर उसका साथ देने लगी अब वो पूरे ज़ोश के साथ मेरी गांड मार रहा था और मैं भी मज़े से आआऊऊईई आह्ह आह्ह्ह मार मेरे राजा ओर ज़ोर से मार । फाड़ डाल मेरी गांड । ऐसे ही चोद मुझे आह्हह्ह रन्डी बना के चोद मुझे।

बहन की चुदाई उसकी रजामंदी से

उसने मेरा सारा माल पूरा बाहर थूक दिया और लास्ट का पी गई, उसे वो बहुत टेस्टी लगा था। अब उसका मुँह मेरे माल से भर गया था और अब उसका भी पानी छूट गया था, तो में उसे चाट-चाटकर पी गया।