Tag: porn story

मुठ मारना छोड़ चोदना शुरू कर दिया- 4

कुतिया रंडी, तूने मेरे पैसे चुराए थे। तेरे को चाल में बुलाने के लिए मैंने अपनी प्यारी सहेली शीतल को चाल से निकालने के लिए खेल खेला और तू ही मेरे पैसे चुरा ले गई। तुझे तो दो दो लण्डों से चुदवाऊँगी।

बहन के देवर से चुदवाकर निहाल हुई

उसने मेरी होठो को अपने मुंह में रख लिया और चूसने लगा | वो मेरी होठो को चूसने लगा तो मेरे जिस्म के एक अजीब सा झटका लगा और मैं भी उसकी होठो को चूसने लगी | वो मेरी होठो को चूसने के साथ मेरे बूब्स को कपडे के ऊपर से दबाने लगा |

चुदवाने के लिए कुछ भी कर जाऊँगी

वह मुझे बड़ी तेज गति से धक्के देता जिससे कि मैं झड़ने वाली थी जब मैं झड़ गई तो मैंने उसे अपने पैरों के बीच में दबोच लिया। वह मुझे बड़ी तेजी से धक्के मार रहा था कुछ ही क्षण बाद वैभव का वीर्य गरने वाला था उसने मेरी योनि के अंदर ही अपने वीर्य को प्रवेश करवा दिया।

सभी जवान लौंडो के लिए चैलेंज

में तुम्हारी चूत चाटता हूं। फिर क्या था जैसे ही उस लड़की ने मेरा लंड मुंह में लिया। मुझे ऐसा लगा जैसे कुछ गर्म चीज़ अपनी तरफ खींच रही हो। मेरा पानी भी निकलने लगा था। फिर मैंने उसको कहा पूरी नग्नावस्था में आ जाओ दोनों मां बेटी नग्न हो चुकी थी।

लंड सहलाकर अपनी चुत चुदवा ली

उसकी मादक आवाज बहुत तेज होती मैं उसे लगातार तेजी से धक्के दे रहा था उसने अपने दोनों पैरों से मुझे जकड लिया और वह पूरे मजे में आने लगी। मुझे उसे धक्के मारने में एक अलग ही मजा आता मैं काफी देर तक उसे ऐसे ही धक्के देता रहा जैसे ही मेरा वीर्य उसकी योनि के अंदर गिरा

दो औरतों की गाँड़ चाटी और चुदाई

मैंने डॉगी स्टाइल में करके उनको अपना 8 इंच का लंड उनकी गांड पर टिका दिया और एक झटके में पूरा अंदर घुसा दिया और उसके बाद 1 घंटे तक लगातार उनकी गांड की चुदाई की फिर भाभी बोली में बहुत अच्छा लग रहा है.

चुचूकों को काट चुत की चुदाई

मैं अपने लंड को अन्दर-बाहर करने लगा और उसकी चूत में भी ऊँगली डालता रहा। कुछ देर बाद उसे भी मजा आने लगा और मैं जोर से उसकी गांड मारने लगा. मैं जब उसकी गांड मार रहा था तो उसके स्तन बहुत जोर जोर से हिल रहे थे…

बहन को उसके बॉयफ्रेंड के साथ चोदा

चन्दन सुमन के पुरे शरीर को चाट रहा था.थोड़ी देर शरीर को चाटने केे बाद उसने सुमन की चूचीयो को चूसना शुरू कर दिया. मेरा लंड बिलकुल टाइट हो चुका था.फिर उसने सुमन की पेंटी उतार दी.सुमन की चूत फुली हुई थी.और चूत केे आस पास झांटे थी.

जवानी के निशानी के लिए बुर चुदवानी पड़ती है

जब मैं उसकी बाहों में गई तो उसने मेरे स्तनों को दबाना शुरू किया और मेरे होठों को चूसना शुरू किया मेरे अंदर की गर्मी बढ़ने लगी थी, मैं अपने आप को काबू में ना रख सकी। उसने मेरे स्तनों को चूसना शुरू किया तो मेरे शरीर से गर्मी अधिक मात्रा में बढने लगी